प्रतिक्रिया | Wednesday, July 24, 2024

04/07/24 | 7:24 pm

102वें अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता दिवस पर “सहकार से समृद्धि” सम्मेलन को संबोधित करेंगे अमित शाह

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह 102वें अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता दिवस के अवसर पर शनिवार, 6 जुलाई को गुजरात के गांधीनगर में “सहकार से समृद्धि” सम्मेलन को संबोधित करेंगे। सहकारिता मंत्रालय अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस – 2024 के उपलक्ष्य में गांधीनगर में ‘सहकार से समृद्धि’ सम्मेलन का आयोजन कर रहा है।

सहकारिता मंत्रालय के अनुसार अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस दुनिया भर में सहकारी आंदोलन का वार्षिक उत्सव है। यह 1923 से अंतरराष्ट्रीय सहकारी गठबंधन (ICA) द्वारा जुलाई महीने के पहले शनिवार को मनाया जाता है। संयोगवश, अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस इस बार 6 जुलाई को मनाया जाएगा, जो केन्द्रीय सहकारिता मंत्रालय का तीसरा स्थापना दिवस भी है। 102वें अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस की थीम है- “सहकारिता सभी के लिए बेहतर भविष्य का निर्माण करती है।”

मंत्रालय ने बताया कि गांधीनगर में आयोजित ‘सहकार से समृद्धि’ सम्मेलन के दौरान केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह वित्त वर्ष 2024-25 के लिए सरकार की एजीआर-2 योजना के तहत किसानों द्वारा नैनो-उर्वरक की खरीद पर 50% सहायता योजना का शुभारंभ करेंगे। इसके साथ ही वे कार्यक्रम में ही तीन किसानों को इसके लिए भुगतान कर योजना का शुभारम्भ करेंगे। अमित शाह नेशनल कोऑपरेटिव ऑर्गेनिक्स लिमिटेड (NCOL) द्वारा उत्पादित ‘भारत ऑर्गेनिक आटा’ भी लॉन्च करेंगे।

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री 6 जुलाई को ही बनासकांठा में चांगड़ा मिल्क प्रोड्यूसर्स कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड का दौरा करेंगे। सहकारिता मंत्री माइक्रो-एटीएम पर RuPay किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के माध्यम से दूध उत्पादकों द्वारा किए गए लेन-देन की भी समीक्षा करेंगे। इसके साथ ही, केन्द्रीय मंत्री महिला दूध उत्पादकों के लिए शून्य प्रतिशत ब्याज योजना के तहत केसीसी-पशुपालन कार्ड भी जारी करेंगे।

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री पंचमहल जिले में भी जाएंगे, जहां वे अंगड़िया अर्थक्षम सेवा सहकारी मंडली का दौरा करेंगे और आसपास के सहकारी सदस्यों के साथ विस्तृत बातचीत करेंगे। अमित शाह आशापुर छारिया दूध सहकारी समिति जाएंगे जहां वे अन्य चीजों के अलावा डेयरी के कामकाज की समीक्षा करेंगे। पंचमहल में गुजरात के संदर्भ में सहकारिता मंत्रालय की विभिन्न महत्वपूर्ण पहलों पर समीक्षा बैठक होगी, जिसकी अध्यक्षता अमित शाह करेंगे।

उल्लेखनीय है कि सहकारिता मंत्रालय ने बहुत ही कम समय में सहकारी क्षेत्र में 54 से अधिक पहल की हैं। अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता दिवस 2024 के अवसर पर सहकारिता मंत्रालय द्वारा आयोजित सम्मेलन देश के साथ-साथ दुनियभार में एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम होगा। यह अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता दिवस 2024 की थीम को और मजबूत करने में भी मदद करेगा, जिसमें अमित शाह “सभी के लिए बेहतर भविष्य बनाने” के लिए सहकारी समितियों के साथ संवाद शुरू करेंगे। यह सम्मेलन इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा वर्ष 2025 को अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता वर्ष (IYC2025) घोषित किया गया है। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए ‘सहकार से समृद्धि’ के मंत्र को साकार करने की दिशा में एक महत्त्वपूर्ण कदम है।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5333155
आखरी अपडेट: 23rd Jul 2024