प्रतिक्रिया | Saturday, July 13, 2024

05/07/24 | 5:31 pm

BSF और DRI ने सीमा पर पकड़ा 6.86 करोड़ का सोना, सात तस्करों को किया गिरफ्तार

बीएसएफ, दक्षिण बंगाल सीमांत के अंतर्गत नदिया जिले में तैनात 68वीं वाहिनी के जवानों ने राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) के साथ मिलकर एक महत्वपूर्ण ऑपरेशन को अंजाम दिया है। इस संयुक्त अभियान के दौरान स्टेट हाईवे नंबर 11 पर सीमानगर इलाके में सिलसिलेवार तलाशी अभियानों में सात तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। इन तस्करों के कब्जे से 9.572 किलो वजन की 16 सोने की ईंटें और एक सोने का बिस्कुट बरामद किया गया। इसके साथ ही 11 लाख 58 हजार 500 रुपये की नकदी और सोने की डिलिवरी में इस्तेमाल की जाने वाली एक मारुति इको कार भी जब्त की गई। जब्त सोने का कुल बाजार मूल्य छह करोड़ 86 लाख 23 हजार 582 रुपये आंका गया है।

बीएसएफ ने शुक्रवार (5 जुलाई) को जानकारी देते हुए बताया, यह घटना चार जुलाई की है जब बीएसएफ की खुफिया शाखा को डीआरआई द्वारा सोने की तस्करी की सूचना मिली। सूचना के पुख्ता होने पर बीएसएफ की 68वीं वाहिनी के जवानों और डीआरआई की संयुक्त टीम ने सीमानगर इलाके में स्टेट हाईवे नंबर 11 पर व्यापक तलाशी अभियान शुरू किया। सुबह 5:30 बजे से नौ बजे तक चले इस अभियान में एक संदिग्ध मारुति इको कार से 4.8 किलो सोने के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया गया। इसके बाद चार अन्य तस्करों को 4.82 किलो सोने के साथ हिरासत में लिया गया। प्रारंभिक पूछताछ के दौरान मिली जानकारी के आधार पर करीमपुर के रामनगर गांव में एक संदिग्ध घर की तलाशी के दौरान एक व्यक्ति को एक सोने का बिस्किट और 11 लाख 58 हजार 500 रुपये की अवैध नकदी के साथ गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार किए गए मुख्य तस्कर की पहचान रफीक मंडल (बदला हुआ नाम) के रूप में हुई है, जो जिला नदिया के तेयपुर का निवासी है। इसके अलावा, छह अन्य गोल्ड कुरियरों की पहचान लाल, रवि, प्रदीप, दाऊद, सीमांतो और बिट्टू (सभी का बदला हुआ नाम) के रूप में की गई है, जो सभी नदिया के निवासी हैं।

प्रारंभिक पूछताछ के दौरान, रफीक मंडल ने बताया कि वह काफी दिनों से सोने की तस्करी में लिप्त है और इस बार कृष्णानगर में किसी अज्ञात व्यक्ति को सोने की खेप देने जा रहा था। इसके बदले उसे 3000 रुपये मिलने थे। लेकिन बीएसएफ ने उसे पहले ही सोने के साथ गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले, 2022 में भी उसे बीएसएफ ने 16 गोल्ड बिस्कुट के साथ गिरफ्तार किया था और उसका केस अभी भी चल रहा है।

सभी गोल्ड कुरियरों ने खुलासा किया कि वे करीमपुर के सीमावर्ती इलाके से सोना लाकर दमदम रेलवे स्टेशन पर किसी अनजान व्यक्ति को सौंपते थे और इसके लिए उन्हें दो से पांच हजार रुपये मिलते थे।

बता दें, पकड़े गए सभी तस्करों और सोने को डीआरआई, कोलकाता को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए सौंप दिया गया है। बीएसएफ, दक्षिण बंगाल सीमांत के जनसंपर्क अधिकारी डीआईजी ए. के. आर्य ने बीएसएफ कर्मियों द्वारा सफल अभियान पर अपनी संतुष्टि व्यक्त की। उन्होंने तस्करी गतिविधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए बीएसएफ की प्रतिबद्धता पर जोर दिया। उन्होंने सीमावर्ती निवासियों से अपील की कि वे सोने की तस्करी से संबंधित किसी भी जानकारी को बीएसएफ के सीमा साथी हेल्पलाइन नंबर 14419 या व्हाट्सएप मैसेज या वॉयस मैसेज के जरिए 9903472227 पर दें। ठोस जानकारी देने पर उचित इनाम दिया जाएगा और सूचना देने वाले की पहचान गोपनीय रखी जाएगी। (H.S)

No related posts found.
कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4794983
आखरी अपडेट: 13th Jul 2024