प्रतिक्रिया | Tuesday, July 23, 2024

10/07/24 | 2:45 pm

दिल्ली सरकार की मंत्री आतिशी ने यमुना नदी के किनारे बाढ़ तैयारियों का लिया जायजा

दिल्ली सरकार में जल मंत्री आतिशी ने आज (बुधवार) को बाढ़ की तैयारियों की समीक्षा के लिए लोहा पुल और यमुना बाजार के निचले इलाकों का दौरा किया। इसके बाद मीडिया से बातचीत के दौरान जल मंत्री मंत्री आतिशी ने कहा कि पिछली बार दिल्ली में पिछले 40 साल में सबसे ज्यादा जलस्तर बढ़ा था इसलिए हमने अभी से बाढ़ की तैयारी शुरू कर दी है।

मंत्री आतिशी ने कहा ने कहा कि आज हम पुराने लोहा पुल के सामने हैं, यहां यमुना बाजार भी है जो दिल्ली के निचले इलाकों में से है। पिछली बार यह इलाका सबसे पहले बाढ़ग्रस्त हुआ था। आज हमने राजस्व व सिंचाई विभाग के अधिकारियों साथ यहां स्थिति का जायज़ा लिया है। दिल्ली सरकार पूरी तरह तैयार है, यदि हमें शॉर्ट नोटिस पर भी लोगों को बाहर निकालना पड़े तो हम इसके लिए तैयार हैं।

मंत्री आतिशी ने कहा, “अभी जलस्तर खतरे के निशान के बहुत नीचे है लेकिन फिर भी हम हर स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं, जिससे दिल्ली वालों को कोई परेशानी न हो।”

जल मंत्री आतिशी ने यह भी कहा कि पिछली बार यमुना में 208 मीटर से ऊपर पानी गया था। दिल्ली में इससे पहले इससे पहले 1978 में जब बाढ़ आई थी तब भी पानी 207 तक ही गया था। अभी यमुना खतरे के निशान से बहुत नीचे है। दिल्ली सरकार सतर्क है अगर बाढ़ की स्थिति बनती है तो हमारी पूरी तैयारी होनी चाहिए, जिसकी वजह से दिल्ली वालों को परेशानी न हो।

हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़े जाने का प्रश्न पर मंत्री आतिशी ने कहा कि अभी बीच हथिनी कुंड बैराज से 10 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया था, वरना अभी 350 क्यूसेक पानी ही छोड़ा जा रहा है। दरअसल दिल्ली में पिछले बार आई बाढ़ की वजह से आप सरकार की काफी आलोचना का सामना करना पड़ा था।इस बार बाढ़ को लेकर दिल्ली सरकार सतर्कता बरतती नजर आ रही है। उल्लेखनीय है, इस साल जुलाई के पहले हफ्ते में ही कई राज्यों में बाढ़ का कहर देखने को मिल रहा है। भारी बारिश के बीच कई राज्य बाढ़ से जूझ रहे हैं। इसमें असम, महाराष्ट्र, बिहार, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के कई इलाके शामिल हैं। (ANI)

No related posts found.
कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5289674
आखरी अपडेट: 23rd Jul 2024