प्रतिक्रिया | Wednesday, July 24, 2024

18/06/24 | 1:53 pm

दिल्ली जल संकट: दिल्ली में पानी के टैंकरों पर देखी गईं लंबी कतारें, वीआईपी इलाकों में भी होगी पानी की कटौती

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली गर्मी की तपिश से तप है। राजधानी में जल संकट के बीच इन इलाकों में टैंकरों के जरिए लोगों को पानी की आपूर्ति की जा रही है। दिल्ली के कई इलाकों में आज (मंगलवार) को टैंकरों से पानी लाने के लिए लोगों की लंबी कतारें देखी गईं। आज सुबह की तस्वीरों में वसंत विहार के कुसुमपुर पहाड़ी, गीता कॉलोनी और ओखला इलाके के लोग कतारों में खड़े, डिब्बे और बाल्टियाँ थामे और पानी के टैंकरों के आसपास भीड़ लगाए हुए दिखाई दिए। अब दिल्ली के वीआईपी इलाकों वाले एनडीएमसी क्षेत्र में भी पानी की कटौती की तैयारी की जा रही है। एनडीएमसी ने एडवाइजरी जारी कर बताया कि वीआईपी इलाकों में दिन में एक बार पानी की आपूर्ति की जाएगी।

इस साल गर्मी के मौसम की शुरुआत से ही राष्ट्रीय राजधानी के कई इलाकों में ये नजारे रोजाना की बात हो गई है। दिल्ली में पानी का संकट इन दिनों सुर्खियों में बना हुआ है, जल संकट कम होने का नाम नहीं ले रहा है। कई इलाकों को ड्राईजोन घोषित कर दिया गया है। लोग यहां पानी की एक-एक बूंद के लिए तरस रहे हैं। बता दें कि पानी के लिए सुबह 3 बजे से ही लंबी-लंबी कतारें लगनी शुरू हो जाती है, लेकिन सैकड़ों लोग बिना पानी लिए घर लौट जाते हैं। यही नहीं कई जगहों पर पानी को लेकर विवाद भी देखने को मिल रहा है।

ओखला की एक स्थानीय निवासी ने अपनी दुर्दशा का वर्णन करते हुए समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कहा कि उनका पूरा दिन परिवार के लिए पानी लाने में ही निकल जाता है। “यहां स्थिति बहुत खराब है। एक दिन में केवल दो से तीन टैंकर ही यहां आते हैं। पूरा दिन पानी लाने में ही निकल जाता है, हम बाकी काम कब करेंगे?” चाणक्यपुरी का संजय कैंप, पूर्वी दिल्ली में गीता कॉलोनी, पटेल नगर, महरौली और छतरपुर राष्ट्रीय राजधानी के कुछ ऐसे इलाके हैं जो गंभीर जल संकट से प्रभावित हैं।

प्राप्त जानकारियों के अनुसार, बढ़ते जल संकट को देखते हुए अब दिल्ली के वीआईपी इलाकों वाले एनडीएमसी क्षेत्र में भी पानी की कटौती की तैयारी की जा रही है। एनडीएमसी ने एडवाइजरी जारी कर बताया कि वीआईपी इलाकों में दिन में एक बार पानी की आपूर्ति की जाएगी। वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी (आप) और भाजपा के बीच पानी के सवाल पर सियासी वार-पलटवार लगातार जारी है।

बता दें राजधानी में चल रहे जल संकट को लेकर सोमवार को दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने वजीराबाद बैराज का दौरा किया। जल मंत्री कहा कि वजीराबाद बैराज में कम पानी होने के कारण कई जल संयंत्र पूरी छमता के साथ काम नहीं कर पा रहे है। इस दौरान आतिशी ने बताया कि वजीराबाद तालाब में हरियाणा से पानी आता है, लेकिन इस बार हरियाणा द्वारा कथित रूप से कम पानी छोड़े जाने की वजह से दिल्ली में जल संकट बना हुआ है। दिल्‍ली की जल मंत्री ने एक बार फिर हरियाणा सरकार से यमुना नदी में पानी छोड़ने की अपील की है। वहीं, दिल्ली में जल संकट को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने राज्य के कई हिस्सों में आप सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार पानी की चोरी और कालाबाजारी रोकने में विफल रही है।

(इनपुट-एएनआई)

No related posts found.
कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5388644
आखरी अपडेट: 24th Jul 2024