प्रतिक्रिया | Friday, April 12, 2024

02/04/24 | 10:08 am

इजराइल ने छह माह की सैन्य कार्रवाई के बाद खाली किया अल शिफा अस्पताल

दो हफ्ते की कार्रवाई के बाद इजरायली सेना सोमवार को गाजा पट्टी के सबसे बड़े अल शिफा अस्पताल से निकल गई। करीब छह महीने से जारी युद्ध में इजरायली सेना दूसरी बार गाजा सिटी के इस अस्पताल में घुसी थी और वहां पर उसने हमास व इस्लामिक जिहाद के लड़ाकों के खिलाफ कार्रवाई की थी।

200 से अधिक आतंकी मारे गए

इजराइली सेना के अनुसार ताजा कार्रवाई में 200 से ज्यादा आतंकी मारे गए हैं, जबकि 500 को गिरफ्तार किया गया है। हमास ने अस्पताल के भीतर और आसपास मारे गए लोगों का आंकड़ा 400 बताया है। गाजा के सबसे बड़े अस्पताल को इजरायली सेना ने बर्बाद कर दिया है। इजराइली सेना ने बताया है कि दो हफ्ते की कार्रवाई में सैकड़ों आतंकियों को मारा गया और गिरफ्तार किया गया है। बड़ी मात्रा में हथियार और खुफिया दस्तावेज जब्त किए गए हैं।

इजराइली के दो जवान भी मारे गए

कार्रवाई में इजराइली सेना के दो जवान भी मारे गए और कुछ घायल हुए हैं। इस दौरान आमजनों, मरीजों और चिकित्सा कर्मियों को बचाने की अधिकतम कोशिश की गई। जबकि हमास के मीडिया ने बताया है कि इजराइली सेना द्वारा मारे गए 400 लोगों में एक बुजुर्ग महिला डॉक्टर और उनका डाक्टर बेटा शामिल हैं। दो लोगों को फांसी देकर मारा गया है। इतना ही नहीं अस्पताल की इमारत का अंदरूनी भाग जला दिया गया है और कई निर्माणों को बुलडोजर से ढहा दिया गया है।

युद्ध के दौरान इजराइली बमबारी और गोलाबारी के कारण बेघर हुए हजारों लोगों ने अल शिफा अस्पताल के परिसर में शरण ले रखी थी। इजराइली कार्रवाई में उनमें से कई के मारे जाने और गिरफ्तार होने की सूचना है। बताया गया है कि कार्रवाई के चलते ज्यादातर लोग ठिकाना छोड़ गए हैं और अब अस्पताल में पुरानी चीजों का अंबार लगा हुआ है। इजराइली सेना की कार्रवाई गाजा के कई इलाकों में जारी है। इस कार्रवाई में सोमवार को 63 लोग मारे गए जबकि बीते छह महीनों में करीब 33 हजार लोग मरे हैं।
(इनपुट- हिन्दुस्थान समाचार)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 612236
आखरी अपडेट: 12th Apr 2024