प्रतिक्रिया | Thursday, April 18, 2024

02/01/24 | 3:11 pm

तमिलनाडु मेक इन इंडिया का प्रमुख ब्रांड एंबेसडर बन रहा है : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन, राष्ट्र को समर्पित और शिलान्यास किया। तिरुचिरापल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन किया। आईजीसीएआर, कलपक्कम में तैयार स्वदेशी प्रमाणित फास्ट रिएक्टर फ्यूल रीप्रोसेसिंग प्लांट (डीएफआरपी) राष्ट्र को समर्पित की। इन विकास परियोजनाओं में तमिलनाडु में रेल, सड़क, तेल और गैस और शिपिंग क्षेत्र जैसे क्षेत्र शामिल हैं। नई सड़क परियोजनाएं श्रीरंगम, चिदंबरम, रामेश्वरम और वेल्लोर जैसे आस्था और पर्यटन के महत्वपूर्ण केंद्रों को जोड़ेंगी। इस अवसर पर अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि परियोजनाएं यहां के आर्थिक परिदृश्य पर सकारात्मक प्रभाव डालेगी। दुनिया भर से भारत में आने वाले भारी निवेश का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इसका सीधा लाभ तमिलनाडु और उसके लोगों को मिल रहा है, क्योंकि राज्य मेक इन इंडिया के लिए एक प्रमुख ब्रांड एंबेसडर बन गया है।

राज्य में रोजगार के हजारों अवसर पैदा होंगे

जनसमूह को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने सभी के लिए फलदायी और समृद्ध नए साल की कामना की और प्रसन्नता व्यक्त की कि 2024 में उनका पहला सार्वजनिक कार्यक्रम तमिलनाडु में हो रहा है। उन्होंने कहा कि आज 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाएं तमिलनाडु की प्रगति को मजबूत करेंगी। उन्होंने राज्य के लोगों को रोडवेज, रेलवे, बंदरगाहों, हवाई अड्डों, ऊर्जा और पेट्रोलियम पाइपलाइनों के क्षेत्रों में फैली परियोजनाओं के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि इनमें से कई परियोजनाओं से यात्रा को बढ़ावा मिलेगा और राज्य में रोजगार के हजारों अवसर भी पैदा होंगे।

केंद्र सरकार तमिलनाडु के लोगों के साथ खड़ी है

उन्होंने तमिलनाडु के लिए पिछले तीन कठिन हफ्तों का जिक्र करते हुए कहा कि जब भारी बारिश हुई तो उसमें कई लोगों की जान चली गई और संपत्ति का भी काफी नुकसान हुआ। पीएम मोदी  ने शोक व्यक्त किया और यह भी कहा कि केंद्र सरकार तमिलनाडु के लोगों के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा, “हम राज्य सरकार को हरसंभव मदद मुहैया करा रहे हैं।”

हाल ही में निधन हुए थिरु विजयकांत को श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी ने कहा, ''वह न केवल सिनेमा के क्षेत्र में बल्कि राजनीति में भी एक 'कैप्टन' थे। उन्होंने अपने काम और फिल्मों से लोगों का दिल जीता और राष्ट्रहित को हर चीज से ऊपर रखा।'' 

तमिलनाडु भारत की समृद्धि और संस्कृति का प्रतिबिंब

पीएम मोदी अपने संबोधन में दोहराया कि अगले 25 वर्षों तक आजादी का अमृत काल भारत को एक विकसित राष्ट्र बनने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने कहा कि तमिलनाडु भारत की समृद्धि और संस्कृति का प्रतिबिंब है। प्रधानमंत्री ने कहा, “तमिलनाडु प्राचीन भाषा तमिल का घर है और यह सांस्कृतिक विरासत का खजाना है।”

तिरुचिरापल्ली की समृद्ध विरासत का किया जिक्र 

अपने संबोधन में तिरुचिरापल्ली की समृद्ध विरासत का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यहां हमें पल्लव, चोल, पांड्य और नायक राजवंशों के सुशासन मॉडल के अवशेष मिलते हैं। उन्होंने कहा कि वह अपनी विदेश यात्राओं के दौरान किसी भी अवसर पर तमिल संस्कृति का उल्लेख करते हैं। उन्होंने कहा, “मैं देश के विकास और विरासत में तमिल सांस्कृतिक प्रेरणा के योगदान के निरंतर विस्तार में विश्वास करता हूं।” उन्होंने नई संसद में पवित्र सेनगोल की स्थापना, काशी तमिल और काशी सौराष्ट्र संगमम का उल्लेख उन प्रयासों के रूप में किया, जिनसे पूरे देश में तमिल संस्कृति के प्रति उत्साह बढ़ा है।

भारत के हो रहे भारी निवेश के बारे में दी जानकारी

प्रधानमंत्री ने पिछले 10 वर्षों में सड़क मार्ग, रेलवे, बंदरगाह, हवाई अड्डे, गरीबों के लिए घर और अस्पतालों जैसे क्षेत्रों में भारत के भारी निवेश के बारे में जानकारी दी और उन्होंने भौतिक बुनियादी ढांचे पर सरकार के जोर को रेखांकित किया। उन्होंने भारत के दुनिया की शीर्ष 5 अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होने का भी उल्लेख किया, जहां यह दुनिया के लिए आशा की किरण बन गया है। दुनिया भर से भारत में आने वाले भारी निवेश का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इसका सीधा लाभ तमिलनाडु और उसके लोगों को मिल रहा है, क्योंकि राज्य मेक इन इंडिया के लिए एक प्रमुख ब्रांड एंबेसडर बन गया है।

केंद्र सरकार का बंदरगाह-आधारित विकास पर जोर 

पिछले 10 वर्षों के दौरान केंद्र सरकार के बंदरगाह आधारित विकास पर ध्यान केंद्रित किए जाने के बारे में पीएम मोदी ने तटीय क्षेत्रों और मछुआरों के जीवन में बदलाव लाने वाली परियोजनाओं का उल्लेख किया। उन्होंने मत्स्य पालन के लिए एक अलग मंत्रालय और बजट, मछुआरों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड, गहरे समुद्र में मछली पकड़ने के लिए नाव आधुनिकीकरण के लिए सहायता और पीएम मत्स्य सम्पदा योजना के बारे में बताया। इसके अलावा उन्होंने सागरमाला योजना का जिक्र करते हुए बताया कि देश में बंदरगाहों को बेहतर सड़कों से जोड़ा जा रहा है। 

पीएम मोदी ने कामराजार बंदरगाह के जनरल कार्गो बर्थ-II के उद्घाटन का भी उल्लेख किया जो तमिलनाडु के आयात और निर्यात, विशेष रूप से ऑटोमोबाइल क्षेत्र को मजबूत करेगा। उन्होंने परमाणु रिएक्टर और गैस पाइपलाइनों का भी जिक्र किया जिससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। 

 

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 735378
आखरी अपडेट: 18th Apr 2024