प्रतिक्रिया | Thursday, April 18, 2024

13/11/23 | 11:28 am

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना खुलना में आज करेंगी 22 विकास परियोजनाओं का उद्घाटन

प्रधानमंत्री शेख हसीना आज 13 नवंबर को खुलना में 22 विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और 2 विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगी। खुलना जिला प्रशासन के मुताबिक 24 परियोजनाओं के कागजात प्रधानमंत्री कार्यालय भेजे जा चुके हैं। 

खुलना के उपायुक्त खांडेकर यासिर अरेफिन ने बताया कि “प्रधानमंत्री शेख हसीना 13 नवंबर को खुलना सर्किट हाउस मैदान में आयोजित होने वाली एक भव्य रैली में 22 विकास परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगी और लगभग 391.12 करोड़ की दो अन्य परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगी। 22 परियोजनाओं में से आठ लोक निर्माण विभाग द्वारा कार्यान्वित की गईं हैं।

इन परियोजनाओं का होगा उद्घाटन

जिनमें नरसंहार और अत्याचार पुरालेख, संग्रहालय भवन, सिविल सर्जन कार्यालय भवन, पाइकगाचा उपजिला में तकनीकी प्रशिक्षण केंद्र,खुलना अपरेंटिस प्रशिक्षण कार्यालय का नवीनीकरण और आधुनिकीकरण, खुलना बीएसटीआई क्षेत्रीय कार्यालय, महिला छात्रावास भवन, पाइकगाचा उपजिला उप-रजिस्ट्री कार्यालय भवन और दौलतपुर में कृषि प्रशिक्षण संस्थान में छात्रों के छात्रावास शामिल हैं।

शिक्षा इंजीनियरिंग विभाग द्वारा कार्यान्वित 10 अन्य परियोजनाएं हैं, जिनमें डुमुरिया टेक्निकल स्कूल एंड कॉलेज, बोयरा सेकेंडरी स्कूल, खुलना कॉलेजिएट स्कूल, गवर्नमेंट एलबीके डिग्री महिला कॉलेज, गवर्नमेंट बंगबंधु कॉलेज,चालना बाजार गवर्नमेंट गर्ल्स हाई स्कूल, तालीमुल मिल्लत रहमतिया फाजिल मदरसा, नज़रूल नगर सेकेंडरी गर्ल्स स्कूल, आरआरएफ सेकेंडरी स्कूल और अरोंग घाटा सेकेंडरी स्कूल शामिल हैं। 

इस दौरान प्रधानमंत्री केसीसी और ईईडी की दो परियोजनाओं का शिलान्यास भी करेंगी। इन दो परियोजनाएं में क्रमशः सेनेटरी लैंडफिल और दिघलिया टेक्निकल स्कूल और कॉलेज का निर्माण शामिल है।

प्रधानमंत्री शेख हसीना का व्यक्तित्व

शेख हसीना वाजेद जनवरी 2009 से बांग्लादेश की प्रधानमंत्री बनी हुई हैं। वह बांग्लादेश के इतिहास में सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाली प्रधानमंत्री हैं। तो वहीं दूसरी तरफ शेख हसीना  दुनिया में सबसे लंबे समय तक सरकार की सेवा करने वाली महिला प्रमुख बन चुकी हैं। हसीना बांग्लादेश के पहले राष्ट्रपति शेख मुजीबुर रहमान की बेटी हैं। उनका राजनीतिक करियर चार दशकों से लंबा है, उन्होंने 1986 से 1990 तक, और 1991 से 1995 तक, बतौर विपक्ष की नेता काम किया। वे 1981 से अवामी लीग (AL) का नेतृत्व कर रही हैं।

उन्होंने जून 1996 से जुलाई 2001 तक प्रधानमंत्री के रूप में कार्य किया। 2009 में, उन्होंने प्रधानमंत्री के रूप में अपने दूसरे कार्यकाल के लिए शपथ ली। 2014 में उन्हें तीसरे कार्यकाल के लिए फिर से चुना गया। उन्होंने 2018 में चौथी जीत हासिल कर प्रधानमंत्री पद पर आसीन हुईं। 

दुनिया की सबसे शक्तिशाली महिलाओं की लिस्ट में शामिल

शेख हसीना को दुनिया की सबसे शक्तिशाली महिलाओं में से एक माना गया है। वे फोर्ब्स पत्रिका की 2020 में दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में 39वें स्थान पर रहीं।  
शेख हसीना का जन्म 28 सितंबर 1947 को पूर्वी पाकिस्तान के तुंगीपारा में हुआ था। उनके पिता शेख मुजीबुर रहमान बांग्लादेश के संस्थापक माने जाते हैं,वे बांग्लादेश के पहले राष्ट्रपति भी थे। बांग्लादेश में सैन्य तख्तापलट के दौरान,15 अगस्त 1975 को उनके पिता और उनके परिवार के अधिकांश लोगों की हत्या के बाद, शेख हसीना ने भारत में शरण लीं थीं।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 734662
आखरी अपडेट: 17th Apr 2024