प्रतिक्रिया | Tuesday, April 16, 2024

25/11/23 | 9:02 am

हमास ने युद्धविराम के बाद इजरायली बंधकों के पहले समूह को रिहा किया,थाइलैंड के 12 नागरिक भी शामिल 

इजरायल और हमास के बीच जारी युद्ध चार दिनों के लिए थम गया है। दोनों पक्षों के बीच जो समझौता हुआ हुआ है, उस पर हमास ने अपना अमल करना भी शुरू कर दिया है। हमास ने बीते शुक्रवार को बंधकों के पहले समूह को रिहा कर दिया इसमें इजरायल के 13 तो थाइलैंड के 14 नागरिक शामिल हैं। इन सभी बंधकों को सीधे इजरायल न ले जाकर सभी बंधको को पहले मिस्र ले जाएगा और फिर वहां से उन्हें इजरायल को सौंपे जाने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।
 

रिहाई की प्रक्रिया 

अभी के लिए बताया जा रहा है कि रेडक्रास ही इजरायल के बंधकों को इजिप्ट लेकर जा रही है। वहां से हेलीकॉप्टर के जरिए ये सभी अपने देश इजरायल पहुंचेंगे। इजिप्ट और गाजा का जो राफा बॉर्डर है, वहां पर इस सयम भारी भीड़ है, ये सभी वो लोग हैं जो अपने परिजनों का वापस लौटने का इंतजार कर रहे हैं। इस पूरे ऑपरेशन पर इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की सीधी नजर है। उनकी एक ही प्राथमिकता है कि ये सभी बंधक सुरक्षित देश वापस लौट आएं।

कैसे हुई थी डील?

यहां ये समझना जरूरी है कि हमास ने इस युद्ध विराम के दौरान कम से कम 50 बंधकों को रिहा करने का वादा किया है। इजराइल हर बंधक को आजाद किए जाने के बदले में तीन फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करने का वादा किया है। यह प्रक्रिया आगामी चार दिनों में कई चरणों में पूरी की जायेगी। कतर, अमेरिका और मिस्र की मध्यस्थता में कई हफ्ते की गहन अप्रत्यक्ष बातचीत के बाद यह समझौता समभव हो पाया।

इजराइल हमास के जंग में अब तक इतने लोगो ने गंवाई जान

अभी तक इस युद्ध में गाजा के 14000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है,तो वहीं इजरायल में भी 1200 लोगों की जान गई है। असल में सात अक्टूबर को अचानक से हमास ने इजरायल पर हमला किया था, उसके नागरिकों का भी कत्ल कर दिया। उस हमले के बाद ही इजरायल की सरकार ने हमास पर कार्रवाई करने की घोषणा की इसके बाद ये युद्ध शुरू हो गया।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 709988
आखरी अपडेट: 16th Apr 2024