प्रतिक्रिया | Thursday, June 13, 2024

 

RBI द्वारा ब्रिटेन से 100 टन से अधिक सोना देश में वापस लाया गया है। यह भारत के लिए बड़ी उपलब्धि है। देश की अर्थव्‍यवस्‍था पर भी इसका प्रभाव देखने को मिलेगा। दरअसल, आरबीआई ने 1991 के बाद पहली बार ब्रिटेन से 100 टन से ज्यादा सोना अपने भंडार में स्थानांतरित किया है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब इतने बड़े पैमाने पर इस कीमती धातु को स्थानीय स्तर पर रखे गए स्टॉक में जोड़ा गया है।

 

विदेश के बैंक में जमा था सोना

जानकारी के मुताबिक आरबीआई ने कुछ साल पहले सोना खरीदना शुरू किया था। चूंकि यह स्टॉक विदेशों में जमा हो रहा था इसलिए कुछ सोना भारत लाने का फैसला किया गया है। सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि आने वाले समय में फिर से इतनी ही मात्रा में सोना देश में आ सकता है।
बैंक ऑफ इंग्लैंड पारंपरिक रूप से कई केंद्रीय बैंकों के लिए स्वर्ण भंडार गृह रहा है। भारत इससे अलग नहीं है, स्वतंत्रता पूर्व के दिनों से लंदन में पीली धातु यानी सोना के कुछ स्टॉक पड़े हुए हैं, जिसे भारत लाया गया है।

आरबीआई के पास 822.1 टन था सोना
बता दें कि हालिया आंकड़ों के अनुसार मार्च के अंत में आरबीआई के पास 822.1 टन सोना था, जिसमें से 413.8 टन सोना विदेशों में था। हाल के वर्षों में सोना खरीदने वाले केंद्रीय बैंकों में रिजर्व बैंक शामिल है, पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान इसमें 27.5 टन सोना जोड़ा गया था।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3512783
आखरी अपडेट: 13th Jun 2024