प्रतिक्रिया | Saturday, May 18, 2024

09/05/24 | 10:54 am | Kedarnath dham

बाबा केदार की पंचमुखी डोली गौरीकुंड से केदारनाथ धाम के लिए रवाना, 10 मई को खुलेंगे कपाट

बाबा केदारनाथ की पंचमुखी डोली आज गुरुवार प्रात: 8ः30 बजे गौरामाई मंदिर गौरीकुंड से केदारनाथ धाम के लिए प्रस्थान कर गई। श्रद्दालुओं और गौरीगांव के स्कूली बच्चों ने बाबा केदार का जयघोष कर पंचमुखी डोली पर पुष्प वर्षा की। केदारनाथ पैदल मार्ग पर जिला प्रशासन, पुलिस, गढवाल मंडल विकास निगम तथा स्थानीय दुकानदारों ने देव डोली का स्वागत किया। केदारनाथ धाम के कपाट 10 मई को खुलेंगे।

40 क्विंटल फूलों से सजाया जा रहा केदारनाथ मंदिर

बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति (बीकेटीसी) के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने बताया कि कपाट खुलने की तैयारियां जोरों पर हैं मंदिर को करीब 40 क्विंटल फूलों से सजाया जा रहा है।

इस बीच, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी अपने आधिकारिक एक्स हैंडल के जरिये केदारनाथ धाम में भक्तों का स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने अपने पोस्ट में लिखा कि चारधाम यात्रा-2024 में केदारनाथ धाम में आये सभी श्रद्धालुओं का हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन है। कपाट खुलने के दौरान मंदिर प्रांगण में सजे मंच से राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त भजन गायकों द्वारा प्रस्तुतियां भी दी जायेंगी।

भगवान केदारनाथ की चलविग्रह उत्सव पंचमुखी मूर्ति की देवडोली को कई दशकों से बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के स्वयं सेवक एवं हक- हकूकधारी पांवों में बिना कुछ पहने पैदल चलकर शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से केदारनाथ धाम तक पहुंचाते हैं।

छह मई को देवडोली ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी से प्रवास के लिए पहुंची और सात मई को दूसरे पड़ाव फाटा पहुंची। आठ मई देर शाम डोली गौरामाता मंदिर गौरीकुंड पहुंची। गौरी माई मंदिर गौरीकुंड से आज बाबा की डोली अपने धाम हिमालय के लिए रवाना हुई। इसके सायंकाल केदारनाथ धाम पहुंचने की संभावना है। यहां डोली भंडार गृह में रात्रि प्रवास करेगी और दस मई को अक्षय तृतीया की पावन बेला में बाबा केदार के कपाट ग्रीष्मकाल के लिए खोल दिए जाएंगे।

बीकेटीसी मीडिया प्रभारी डॉ. हरीश गौड़ ने बताया कि देश-विदेश के सैकड़ों श्रद्धालु भी डोली के साथ केदारनाथ जा रहे हैं। आज गौरीकुंड में केदारनाथ धाम के पुजारी शिवशंकर लिंग, कार्याधिकारी आरसी तिवारी, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी डीएस भुजवाण एवं यदुवीर पुष्पवान, डोली प्रभारी प्रदीप सेमवाल, प्रबंधक कैलाश बगवाड़ी, संजय तिवारी,भरत कुर्मांचली,कुलदीप धर्म्वाण, आलोक बजवाल,संजय कुकरेती सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 1710462
आखरी अपडेट: 18th May 2024