प्रतिक्रिया | Tuesday, June 25, 2024

भाजपा ओडिशा में बनाएगी पहली बार अपनी सरकार, मुख्यमंत्री की दौड़ हो गई है तेज

ओडिशा में चुनाव परिणाम घोषित हो जाने के बाद अब सरकार बनाने की तैयारी चल रही है। प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के पहले मुख्यमंत्री की दौड़ तेज हो गई है। सभी 20 नवनिर्वाचित सांसदों सहित पार्टी के राज्य नेता दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं और इस मुद्दे पर आज (शुक्रवार) उनके केंद्रीय नेताओं से मिलने की संभावना है। संसदीय बोर्ड की बैठक में ओडिशा के नए मुख्यमंत्री के नाम पर अंतिम फैसला केंद्र में भाजपा सांसदों और अन्य नेताओं की राय के आधार पर लिया जाएगा। 

रविवार से पहले नाम तय होने की संभावना है क्योंकि प्रधानमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता नरेंद्र मोदी ने चुनाव अभियान के दौरान इस महीने की 10 तारीख को नए भाजपा मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह की घोषणा की थी। 

भाजपा ओडिशा के बेटे या बेटी को ही यहां का मुख्यमंत्री बनाएगी

पीएम मोदी ने ओडिशा में चुनावी प्रचार के दौरान कहा था कि आप यहां भाजपा की सरकार बनाइए, भाजपा ओडिशा के बेटे या बेटी को ही यहां का मुख्यमंत्री बनाएगी। उन्होंने कहा था कि 10 जून को ओडिशा में डबल इंजन सरकार का शपथ ग्रहण कार्यक्रम होगा क्योंकि इस बीजेडी सरकार का जाना तय है। 21वीं सदी के ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए। ओडिशा में चुनाव परिणाम घोषित हो जाने के बाद अब सरकार बनाने की तैयारी चल रही है। 

लोगों ने 25 साल के कुशासन को हराया

वहीं दूसरी ओर कांताबंजी विधानसभा क्षेत्र से बीजद अध्यक्ष नवीन पटनायक को हराने वाले भाजपा उम्मीदवार लक्ष्मण बाग ने कहा, “13 साल की उम्र से मैं और मेरा भाई मजदूरी करते आए हैं, मैंने ड्राइविंग भी की है, तब से ही मेरे मन में था कि मैं लोगों की सेवा करूंगा और हमेशा सत्य का साथ दूंगा, मैंने हमेशा लोगों का साथ दिया है। मेरे ऊपर विश्वास करके लोगों ने कांटाबाजी विधानसभा क्षेत्र में 25 साल से मुख्यमंत्री रहे व्यक्ति को हराकर मुझे मौका दिया। यहां बहुत समस्याएं थी। लोगों ने 25 साल के कुशासन को हराया है। उन्होंने (नवीन पटनायक) बहुत झूठ बोला तभी जनता ने उन्हें हराया, अन्यथा किसने सोचा था कि एक मुख्यमंत्री के सामने 3 रुपये की दिहाड़ी मजदूरी करने वाला व्यक्ति 16 हजार वोटों से जीतेगा।”

ओडिशा में मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा ?

बता दें सभी 20 नवनिर्वाचित सांसदों सहित पार्टी के राज्य नेता दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं और इस मुद्दे पर आज (शुक्रवार) उनके केंद्रीय नेताओं से मिलने की संभावना है। संसदीय बोर्ड की बैठक में ओडिसा के नए मुख्यमंत्री के नाम पर अंतिम फैसला केंद्र में भाजपा सांसदों और अन्य नेताओं की राय के आधार पर लिया जाएगा। अब देख्नना यह है कि ओडिशा में मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होने वाला है।

(AIR, ANI)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3976168
आखरी अपडेट: 24th Jun 2024