प्रतिक्रिया | Saturday, July 13, 2024

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग आज से कजाकिस्तान-ताजिकिस्तान की 5 दिवसीय यात्रा पर, एससीओ समिट 2024 में लेंगे भाग

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग आज से कजाकिस्तान और ताजिकिस्तान की पांच दिवसीय यात्रा पर रहेंगे। चीनी विदेश मंत्रालय ने रविवार को घोषणा की, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग 2 से 6 जुलाई तक कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में शंघाई सहयोग संगठन के राष्ट्राध्यक्षों की परिषद के 24वें शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे।

प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने बताया कि शी कजाकिस्तान के राष्ट्रपति कासिम-जोमार्ट तोकायेव और ताजिकिस्तान के राष्ट्रपति इमोमाली रहमान के निमंत्रण पर कजाकिस्तान और ताजिकिस्तान की राजकीय यात्रा भी करेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शिखर सम्मेलन में अफगानिस्तान की स्थिति, रूस-यूक्रेन युद्ध और एससीओ सदस्य देशों के बीच समग्र सुरक्षा सहयोग को बढ़ावा देने पर चर्चा होने की उम्मीद है। कजाख राष्ट्रपति कासिम-जोमार्ट टोकायेव द्वारा आयोजित शिखर सम्मेलन में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग, मध्य एशियाई नेताओं और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के शामिल होने की उम्मीद है।

वहीं दूसरी ओर भारत के विदेश मंत्रालय (MEA) ने 28 जून को घोषणा की थी कि विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर अगले सप्ताह होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जायसवाल ने मीडिया से बात करते हुए बताया था कि शिखर सम्मेलन 3 से 4 जुलाई तक कजाकिस्तान के अस्ताना में होगा।

बता दें, वर्ष 2023 में भारत ने एससीओ शिखर सम्मेलन की मेजबानी की थी। इस वर्ष कजाकिस्तान समूह के वर्तमान अध्यक्ष के रूप में शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है। 2001 में बना शंघाई को-ऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन एक राजनीतिक, आर्थिक और सुरक्षा ग्रुप है। इस समय चीन, रूस, भारत, पाकिस्तान, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान,ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान इसके सदस्य हैं।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4789407
आखरी अपडेट: 13th Jul 2024