प्रतिक्रिया | Tuesday, June 18, 2024

डीजीसीए ने उड़ानों में विलंब के लिए एयर इंडिया को जारी किया कारण बताओ नोटिस

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने शुक्रवार को टाटा की अगुवाई वाली एयर इंडिया को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। विमानन नियामक डीजीसीए ने दो अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में अत्यधिक देरी और यात्रियों की समुचित देखभाल में नाकाम रहने के लिए एयर इंडिया को नोटिस भेजकर तीन दिन में जवाब मांगा है।

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इस नोटिस में 30 मई को दिल्ली से सैन फ्रांसिस्को की उड़ान एआई 183 और 24 मई को मुंबई से सैन फ्रांसिस्को की उड़ान एआई 179 के परिचालन में हुए अनावश्यक विलंब का जिक्र करते हुए जवाब मांगा है।

डीजीसीए की ओर से जारी नोटिस के मुताबिक एयर इंडिया की ये दोनों उड़ानें केबिन के भीतर तापमान नियंत्रित न होने की वजह से काफी विलंब से संचालित हुई थीं। विमान में देरी और अंदर अपर्याप्त कूलिंग के कारण कई यात्रियों को परेशानी हुई और असुविधाओं का सामना करना पड़ा था।

जानकारी के मुताबिक नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उड़ानों में देरी और यात्रियों को हुई असुविधा के इस मामले का संज्ञान लिया है, जिसके बाद एयर इंडिया को कारण बताओ नोटिस भेजा गया है।

डीजीसीए ने भेजे नोटिस में कहा है कि एयर इंडिया के खिलाफ कई बार यात्री सुविधा से जुड़े मानकों का ध्यान न रखे जाने के मामले उसके संज्ञान में आ चुके हैं। विमानन नियामक ने कहा कि एयर इंडिया बार-बार यात्रियों का ध्यान रख पाने में नाकाम हो रही है। वह यात्रियों को दी जाने वाली सुविधाओं के प्रावधानों का पालन नहीं कर रही है। ऐसे में एयर इंडिया को बताना होगा कि उसके खिलाफ कार्रवाई क्यों न की जाए।
(इनपुट- हिन्दुस्थान समाचार)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3697040
आखरी अपडेट: 18th Jun 2024