प्रतिक्रिया | Monday, July 15, 2024

नीट- यूजी परीक्षा विवाद पर बोले धर्मेंद्र प्रधान कोई पेपर लीक नहीं हुआ,सरकार कोर्ट में जवाब देने के लिए तैयार

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि NEET-UG पेपर में कोई पेपर लीक नहीं हुआ है। सरकार सुप्रीम कोर्ट में जवाब देने के लिए तैयार है। गुरुवार को लगातार दूसरे कार्यकाल के लिए केंद्रीय शिक्षा मंत्री का पदभार संभालने वाले प्रधान ने प्रेस को बताया कि 24 लाख छात्रों ने सफलतापूर्वक NEET परीक्षा दी है।

उन्होंने कहा कि मैं छात्रों और उनके अभिभावकों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि भारत सरकार और NTA उन्हें न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। चौबीस लाख छात्रों ने सफलतापूर्वक NEET परीक्षा दी है। कोई पेपर लीक नहीं हुआ है इसके संदर्भ में अभी तक कोई सबूत नहीं मिला है। लगभग 1563 छात्रों के लिए कोर्ट द्वारा सुझाया गया मॉडल अपनाया गया था और इसके लिए शिक्षाविदों का एक पैनल बनाया गया है। उन्होंने कहा कि हम कोर्ट के फैसले को स्वीकार करेंगे।

मामले की जांच के लिए शिक्षाविदों की समिति गठित

उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर विचार किया जा रहा है और शिक्षाविदों की एक समिति बनाई गई है। सरकार इसे कोर्ट के सामने रखेगी। गौरतलब है कि एनटीए देश में तीन बड़ी परीक्षाएं यानी नीट,जेईई और सीयूईटी सफलतापूर्वक आयोजित करती है। उन्होंने कहा कि हम जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिक्षा राज्य मंत्री जयंत चौधरी भी मौजूद रहे। प्रश्नों का जवाब देते हुए प्रधान ने कहा कि प्रश्नपत्रों के दो सेट की व्यवस्था “कोई नई प्रथा नहीं है यह कई सालों से चलन में है। अंतिम सेट परीक्षा से ठीक पहले तय किया जाता है। उन्होंने बताया कि छह केंद्रों पर गलत सेट वितरित किया गया जिससे वहां परीक्षा 40 मिनट देरी से शुरू हुआ। राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि 2024 की राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (स्नातक) में “ग्रेस मार्क्स” पाने वाले 1563 उम्मीदवारों के स्कोर-कार्ड रद्द कर दिए जाएंगे और उम्मीदवारों को फिर से परीक्षा देने का मौका मिलेगा।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4863519
आखरी अपडेट: 15th Jul 2024