प्रतिक्रिया | Tuesday, June 18, 2024

रोजगार के र्मोचे पर अच्छी खबर, ईपीएफओ ने मार्च महीने में 14.41 लाख नेट नए सदस्य जोड़े

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने मार्च में नेट (शुद्ध रूप से) 14.41 लाख सदस्य जोड़े हैं। सेवानिवृत्ति कोष का प्रबंधन करने वाले निकाय ईपीएफओ ने यह जानकारी दी है।  

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि ईपीएफओ के ताजा पेरोल आंकड़ों के मुताबिक मार्च महीने में शुद्ध रूप से 14.41 लाख नए सदस्य जोड़े गए हैं। 

मार्च, 2024 के दौरान लगभग 7.47 लाख नए सदस्य जुड़े

मंत्रालय के मुताबिक मार्च, 2024 के दौरान लगभग 7.47 लाख नए सदस्य जुड़े हैं। मार्च में जोड़े गए कुल नए सदस्यों में 18-25 आयु वर्ग की 56.83 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

ईपीएफओ के पेरोल आंकड़ों से पता चलता है कि लगभग 11.80 लाख सदस्य कर्मचारी भविष्य निधि संगठन से बाहर चले गए, जो बाद में फिर से शामिल हो गए। 

7.47 लाख नए सदस्यों में लगभग दो लाख महिला सदस्य

आंकड़ों के मुताबिक 7.47 लाख नए सदस्यों में लगभग दो लाख महिला सदस्य हैं। इसके अलावा, महीने के दौरान कुल महिला सदस्यों की संख्या लगभग 2.90 लाख रही। श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने कहा कि ईपीएफओ के पेरोल आंकड़े अस्थायी है, क्योंकि आंकड़े जमा करने की प्रक्रिया लगातार चलती है। 

जानकारी के लिए बता दें, अप्रैल-2018 के महीने से, ईपीएफओ सितंबर, 2017 के बाद की अवधि को समाहित करते हुए पेरोल डेटा जारी कर रहा है। मासिक पेरोल डेटा में, आधार से सत्यापित यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) के माध्यम से पहली बार ईपीएफओ में शामिल होने वाले सदस्यों की संख्यों, ईपीएफओ के कवरेज के दायरे से बाहर निकलने वाले वर्तमान सदस्य और जो इससे बाहर निकल गए लेकिन सदस्यों के रूप में फिर से शामिल हो गए, उन्हें शुद्ध मासिक पेरोल में शामिल किया गया है।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3700474
आखरी अपडेट: 18th Jun 2024