प्रतिक्रिया | Saturday, May 25, 2024

घाटकोपर होर्डिंग हादसा: रेस्क्यू ऑपरेशन 60 घंटों के बाद पूरा हुआ, 16 लोगों की मौत, मलबा हटाने का काम जारी

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई के घाटकोपर इलाके में होर्डिंग गिरने के हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर 16 हो गई है। घााटकोपर होर्डिंग हादसे में रेस्क्यू ऑपरेशन आखिरकार पूरा हो गया है। बीएमसी कमिश्नर भूषण गगरानी ने घटनास्थल पर पहुंचकर समीक्षा की। उन्होंने मीडिया को बताया कि घाटकोपर में सोमवार (13 मई) को होर्डिंग गिरने की घटना में अब तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है। 42 लोग अस्पताल में भर्ती हैं। वहीं दूसरी ओर घाटकोपर में होर्डिंग के मलबे को हटाने का काम अभी जारी है।

बता दें कि आज (बुधवार) सुबह मुंबई नगर निगम आयुक्त भूषण गगरानी ने उस स्थल का दौरा किया जहां 13 मई को घाटकोपर के छेदानगर इलाके में एक होर्डिंग गिर गया था। उन्होंने साइट और चल रहे काम की समीक्षा की। भूषण गगरानी ने मीडिया को बताया कि घाटकोपर होर्डिंग हादसे के बाद से ही पिछले तीन दिनों से एनडीआरएफ के जवान सेंसर और डॉग टीम की मदद से यह पता लगाने की कोशिश की जा रही थी कि होर्डिंग्स के मलबे के नीचे कोई फंसा तो नहीं है। इस हादसे में दुर्भाग्यवश 16 लोगों की मौत हो गई है। ये रेस्क्यू ऑपरेशन अब पूरा हो गया है। इस अभियान में 60 घंटे में लगे। इस रेस्क्यू ऑपरेशन में मुंबई नगर निगम, मुंबई पुलिस, एमएमआरडीए, एनडीआरएफ, महानगर गैस ने समन्वय बनाकर रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा किया है। दुर्घटना स्थल पर पूरी जांच की गई है, इसमें कोई अन्य व्यक्ति मलबे के नीचे दबा नहीं है। हालांकि मौके पर अब भी होर्डिंग का मलबा हटाने का काम चल रहा है। इस हादसे में मरने वालों के परिजनों को तत्काल सहायता उपलब्ध करायी जायेगी।

उन्होंने बताया कि मुंबई में अनधिकृत होर्डिंग्स के मामले में कार्रवाई की जा रही है। होर्डिंग्स के लिए निर्धारित मानकों का पालन किया जाए। इनका फाउंडेशन, वेंटिलेशन सभी मानक तय हैं। उनका अवलोकन किया जाना चाहिए। रेलवे को भी इन मानकों का पालन करना अनिवार्य है। होर्डिंग लगाते समय अनुमति लेनी होगी। बीएमसी कमिश्नर भूषण गगरानी ने भी कहा है कि सभी नियमों का पालन किया जाना चाहिए। सभी होर्डिंग्स की संरचनात्मक स्थिरता अनिवार्य है। ढांचागत स्थिरता के बाद उन्हें नगर निगम में प्रमाणपत्र जमा करना होगा। इस हादसे में मुंबई पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। गगरानी ने बताया कि मुंबई में सभी लाइसेंस प्राप्त होर्डिंग्स का निरीक्षण भी चल रहा है।

उल्लेखनीय है कि सोमवार को करीब सवा चार बजे घाटकोपर में इस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे के पास पेट्रोल पंप के पास लगा विशालकाय होर्डिंग तूफानी हवा के साथ आई बेमौसम बारिश में गिर गया था। इसके बाद फायर ब्रिगेड, एनडीआरएफ की टीमों ने मौके पर राहत और बचाव कार्य शुरू किया था। राहत और बचाव कार्य कर रही टीमों ने बीएमसी को बताया कि अब होर्डिंग के मलबे के नीचे कोई दबा नहीं है। अभी मलबा हटाने का काम जारी है।

(Input from agencies)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 2012765
आखरी अपडेट: 25th May 2024