प्रतिक्रिया | Wednesday, June 19, 2024

नौसेना के जहाज किल्टान ने भारत और ब्रुनेई के नौसैनिक संबंधों को किया मजबूत

भारतीय नौसेना का जहाज किल्टन ब्रुनेई से रवाना हो गया है । किल्टन ने भारतीय नौसेना-रॉयल ब्रुनेई नेवी के बीच समुद्री साझेदारी अभ्यास में भाग लिया। इंडियन नेवी के जहाज किल्टन ने दक्षिण चीन सागर में भारतीय नौसेना के पूर्वी बेड़े की परिचालन तैनाती के हिस्से के रूप में ब्रुनेई के मुआरा का दौरा किया था। इस पोर्ट कॉल के सफल समापन से ‘एक्ट ईस्ट’ और ‘सागर विजन’ की नीतियों के अनुरूप क्षेत्र में शांति एवं स्थिरता बनाए रखने के लिए भारत की प्रतिबद्धता का पता चलता है।

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में बताया, भारतीय नौसेना के जहाज किल्टन ने भारतीय नौसेना-रॉयल ब्रुनेई नेवी के बीच समुद्री साझेदारी अभ्यास में भाग लिया। जहाज किल्टन ने दक्षिण चीन सागर में भारतीय नौसेना के पूर्वी बेड़े की परिचालन तैनाती के हिस्से के रूप में ब्रुनेई के मुआरा का दौरा किया था। इस यात्रा ने दोनों देशों के बीच समुद्री संबंधों को और अधिक विस्तार देने हेतु भारत की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित किया।

पोर्ट कॉल के दौरान पेशेवर बातचीत, क्रॉस डेक दौरे और सांस्कृतिक आदान-प्रदान के कार्यक्रम भी शामिल किये गए। बता दें कि इस जहाज को आगंतुकों के स्वागत के लिए भी खुला रखा गया था, जिसके तहत भारतीय प्रवासी सदस्यों और रॉयल ब्रुनेई नौसेना के कर्मियों ने भी जहाज का दौरा किया। उन्हें युद्धपोत, भारत की स्वदेशी जहाज निर्माण क्षमताओं और समृद्ध समुद्री विरासत के बारे में जानकारी दी गई।

दलगत भावना को बढ़ावा देने के उद्देश्य से भारतीय नौसेना और रॉयल ब्रुनेई नौसेना के कर्मियों के बीच वॉलीबॉल मैच भी खेला गया। इस जहाज ने भारतीय नौसेना और रॉयल ब्रुनेई नेवी के बीच समुद्री साझेदारी अभ्यास में भी भाग लिया।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3737704
आखरी अपडेट: 19th Jun 2024