प्रतिक्रिया | Friday, June 14, 2024

राष्ट्रीय कैडेट कोर (NCC) का दो दिवसीय ‘वार्षिक नीति संवाद शिविर’ 4 से 5 जून को नई दिल्ली में आयोजित हुआ। एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह ने सम्मेलन का उद्घाटन किया। इसमें देश भर के एनसीसी निदेशालयों के अतिरिक्त महानिदेशक और उप महानिदेशक शामिल हुए। सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए सरकार के निर्देशों के अनुसार एनसीसी की चल रही विस्तार योजना की प्रगति की समीक्षा करना था।

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में जानकारी देते हुए बताया ,राष्ट्रीय कैडेट कोर (NCC) का दो दिवसीय ‘वार्षिक नीति संवाद शिविर’ 4- 5 को जून नई दिल्ली में करिअप्पा परेड ग्राउंड में डीजी एनसीसी कैंप के नव-पुनर्निर्मित प्रताप कॉन्फ्रेंस हॉल में आयोजित किया गया। ज्ञात हो हॉल का नाम 10वीं पंजाब बटालियन एनसीसी, गुरदासपुर के कैडेट सर्जेंट प्रताप सिंह के नाम पर रखा गया है। युद्ध के दौरान 13 सितंबर, 1965 को गुरदासपुर रेलवे स्टेशन पर अग्निशमन अभियानों के दौरान उनकी वीरता और निस्वार्थ कर्तव्य के लिए उन्हें अशोक चक्र क्लास-III से सम्मानित किया गया था।

एनसीसी के महानिदेशक ने बैठक में एनसीसी के प्रशिक्षण, इंफ्रास्ट्रक्चर और लॉजिस्टिक्स को बढ़ाने के लिए पिछले एक वर्ष में किए गए पर्याप्त प्रयासों पर प्रकाश डाला। उन्होंने राष्ट्र निर्माण, सामाजिक जागरूकता और सामुदायिक विकास कार्यक्रमों में सार्थक योगदान देने के लिए सभी निदेशालयों के अस्तित्व का मूल कारण संस्थागत प्रशिक्षण की आवश्यकता पर बल दिया।

इस दौरान जनरल गुरबीरपाल सिंह ने देश को 2047 तक ‘विकसित भारत’ बनाने की दिशा में सरकार की नीतियों के अनुरूप युवा भारतीयों को प्रेरित करने तथा उन्हें जिम्मेदार नागरिक बनाने के लिए एनसीसी की अटूट प्रतिबद्धता दोहराई।

 

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3553569
आखरी अपडेट: 14th Jun 2024