प्रतिक्रिया | Monday, June 24, 2024

 

 

आदमी पार्टी की नेता और राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल के साथ हुई मारपीट के मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव विभव को एक बार फिर नोटिस जारी कर शनिवार को पेश होने को कहा है। अगर वे शनिवार को भी पेश नहीं होते तो आयोग के सदस्य उसके घर जाकर उनसे सवाल जवाब करेंगे। बता दें कि शुक्रवार को उन्हें राष्ट्रीय महिला आयोग के दफ्तर पेश होना था लेकिन वे पेश नहीं हुए।

 

राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वत: लिया संज्ञान
राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता में कहा, “जब हमने सोशल मीडिया पर यह देखा तो हमने स्वत: संज्ञान लिया। मैंने स्वाति मालीवाल से शिकायत दर्ज करने का अनुरोध किया। मुझे लगता है वह सदमे में थी क्योंकि कोई भी उम्मीद नहीं कर सकता था कि उन्हें अपने नेता के आवास पर इस तरह से पीटा जाएगा। वह एक सांसद हैं जो हमेशा महिलाओं के मुद्दों को उठाती रही हैं। मैंने उनसे कहा कि मैं उनके साथ हूं, और आप बाहर आएं और शिकायत करें काफी देर तक सोचने के बाद उसने शिकायत दर्ज कराई।”

विभव की पत्नी ने नहीं स्वीकर किया नोटिस
रेखा शर्मा ने कहा कि हमने विभव को नोटिस भेजा है, लेकिन उनकी पत्नी ने इसे स्वीकार नहीं किया, इसलिए हमने वह नोटिस उनके दरवाजे पर चिपका दिया। अगर वह कल तक नहीं आए तो फिर हम उनके आवास पर जाएंगे और सुनिश्चित करेंगे कि हमारी टीम उनसे मिले। मुझे उम्मीद है कि वह कल आएंगे।

उन्होंने कहा कि इस घटना पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की चुप्पी बता रही है कि वे कह रहे हैं कि उन्हें किसी चीज की परवाह नहीं है। सोचिए यह एक संकेत है कि वह विभव को अपने साथ ले जा रहे हैं। वह किसी महिला का पक्ष नहीं ले रहे हैं बल्कि अपराधी का पक्ष ले रहे हैं। अगर यह सब मुख्यमंत्री की जानकारी में था तो यह एक बड़ा सवाल है कि क्यों नहीं कोई एक्शन लिया गया?

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3971041
आखरी अपडेट: 24th Jun 2024