प्रतिक्रिया | Monday, May 27, 2024

 

 

पेरिस ओलंपिक में भारत के छह पहलवान अपना दमखम दिखाएंगे। इनमें पांच महिलाएं हैं। अमन सहरावत और निशा दहिया ने इस्तांबुल, तुर्की में विश्व ओलंपिक कुश्ती क्वालीफायर में भारत के कोटा की संख्या छह तक पहुंचा दी। इससे पहले, विनेश फोगाट, अंतिम पंघाल, अंशू मलिक और रीतिका हुडा अलग-अलग क्वालीफाइंग स्पर्धाओं में पेरिस खेलों के लिए क्वालीफाई कर चुके थे।

विश्व ओलंपिक कुश्ती क्वालीफायर में मिला दो कोटा
भारत ने विश्व ओलंपिक कुश्ती क्वालीफायर में अपना अभियान दो पेरिस ओलंपिक 2024 कोटा के साथ समाप्त किया, जो पहलवान अमन सहरावत और निशा दहिया ने क्रमशः पुरुष और महिला वर्ग में हासिल किए। इस्तांबुल की यह प्रतियोगिता भारत के लिए कुश्ती में पेरिस 2024 कोटा हासिल करने का आखिरी मौका था। रविवार को आयोजन के अंतिम दिन, सुजीत कलकल और जयदीप अहलावत को अपने कांस्य पदक मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा।

 

14 भारतीय पहलवान 9 से 12 मई तक क्वालीफायर में खेले
65 किग्रा वर्ग में प्रतिस्पर्धा करते हुए सुजीत ने सेमीफाइनल में जगह बनाई लेकिन रविवार को एशियाई खेलों के चैंपियन मंगोलिया के तोमर-ओचिरिन तुल्गा से हार गए। जब स्कोर 2-2 से बराबर था तब उन्हें यूएसए के ज़ैन रदरफोर्ड ने मानदंड के आधार पर हराया था।
प्रत्येक डिवीजन में दोनों फाइनलिस्टों ने अपने देशों के लिए 2024 पेरिस ओलंपिक कोटा सुरक्षित कर लिया है। तीसरा कोटा एक विशेष भार वर्ग के कांस्य पदक विजेताओं के बीच प्लेऑफ मैच के विजेता को मिला। 2021 में टोक्यो ओलंपिक में पुरुषों के 65 किग्रा में कांस्य पदक हासिल करने वाले बजरंग पुनिया क्वालीफायर के लिए भारतीय कुश्ती टीम का हिस्सा नहीं थे।
क्वार्टर फाइनल में हार के बाद 74 किग्रा के रेपेचेज राउंड में जगह बनाने वाले जयदीप अहलावत को कांस्य पदक मुकाबले में तुर्किये के सोनेर डेमिरतास के खिलाफ 2-1 से करीबी हार का सामना करना पड़ा। उन्होंने इससे पहले रेपेचेज राउंड में तुर्कमेनिस्तान के अर्सलान अमानमिरादोव को 11-0 से हराया था। कुल 14 भारतीय पहलवान 9 से 12 मई तक क्वालीफायर में खेले।

 

इन भारवर्ग में हासिल किया कोटा
अमन ने 57 किग्रा वर्ग में ओलंपिक 2024 कोटा हासिल किया, जो पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए पुरुष फ्रीस्टाइल वर्ग में भारत का पहला कोटा है। टोक्यो ओलंपिक में 57 किलोग्राम वर्ग में रजत पदक विजेता रवि कुमार दहिया भी क्वालीफायर के लिए भारतीय टीम में जगह बनाने में असफल रहे। 2020 ओलंपिक में पांचवां स्थान हासिल करने वाले दीपक पुनिया अपने देश के लिए कोटा नहीं जीत सके।
निशा ने इस प्रतियोगिता में महिलाओं के 68 किलोग्राम वर्ग में भारत के लिए दूसरा कोटा हासिल किया, जिससे यह किसी भारतीय महिला पहलवान द्वारा पांचवां पेरिस 2024 कोटा बन गया।

अंतिम पंघाल (53 किग्रा) ने 2023 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के दौरान भारत के लिए पहला कोटा हासिल किया, जबकि विनेश फोगाट (50 किग्रा), अंशू मलिक (57 किग्रा) और रितिका हुडा (76 किग्रा) ने पिछले महीने बिश्केक में आयोजित एशियाई क्वालीफायर के दौरान कोटा में इजाफा किया।

 

इस बीच भारत ग्रीको-रोमन कुश्ती में कोटा हासिल नहीं कर सका। पिछले साल एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाले सुनील कुमार पुरुषों के 87 किग्रा वर्ग के रेपेचेज दौर में हार गए।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 2088511
आखरी अपडेट: 27th May 2024