प्रतिक्रिया | Wednesday, May 22, 2024

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू एक मई को अयोध्या दौरे पर रहेंगी। इस दौरान श्री राम जन्मभूमि मन्दिर में रामलला का दर्शन करेंगी और हनुमानगढ़ी भी जाएंगी। शाम को सरयू आरती में भी शामिल हो सकती हैं। श्री राम जन्मभूमि मन्दिर में उनके स्वागत के लिए ट्रस्ट महासचिव चम्पत राय, ट्रस्टी डॉ. अनिल मिश्रा, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मौजूद रहने की उम्मीद बताई जा रही है।

राष्ट्रपति के प्रस्तावित दर्शन-पूजन कार्यक्रम को लेकर पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है। सुरक्षा के साथ व्यवस्थाओं का निरीक्षण और समीक्षा की जा रही है। इसी को लेकर पुलिस महानिरीक्षक प्रवीण कुमार, जिलाधिकारी नितीश कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर ने संयुक्त रूप से अयोध्या के हनुमानगढी, रेलवे स्टेशन, राम पथ, नया घाट आदि विभिन्न स्थानों का भ्रमण कर स्थलीय जायजा लिया है। निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने सुरक्षा और व्यवस्था को देखा है। रामजन्मभूमि व हनुमानगढी समेत अन्य महत्वपूर्ण स्थलों पर दर्शन पूजन, स्नान के दौरान श्रद्धालुओं को सुरक्षा तथा सुविधा व सहूलियत के लिए आवश्यक हिदायत दी है।

जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक राष्ट्रपति मुर्मू एक विशेष विमान से 1 मई शाम करीब चार बजे अयोध्या पहुंचने की उम्मीद है। इसके बाद उन्हें वीआईपी गेट से होते हुए मंदिर परिसर तक ले जाया जाएगा। श्री राम जन्मभूमि मन्दिर में उनके स्वागत के लिए ट्रस्ट महासचिव चम्पत राय, ट्रस्टी डॉ. अनिल मिश्रा, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मौजूद रहने की उम्मीद बताई जा रही है।

कार्यक्रम को लेकर लखनऊ-अयोध्या-गोरखपुर राष्ट्रीय राजमार्ग और अयोध्या हवाई अड्डे को राम पथ से जोड़ने वाले मार्ग पर ट्रैफिक डायवर्जन किया जाएगा। ट्रस्टी डॉ. अनिल मिश्रा ने बताया कि राष्ट्रपति का विस्तृत कार्यक्रम अभी नहीं आया है, लेकिन हम एक मई को राष्ट्रपति के स्वागत की तैयारी कर रहे हैं। मन्दिर में इस समय आम भक्त भी मंदिर में दर्शन-पूजन उसी प्रकार करते रहेंगे।

(इनपुट-हिन्दुस्थान समाचार)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 1875492
आखरी अपडेट: 22nd May 2024