प्रतिक्रिया | Tuesday, July 23, 2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब देते हुए कहा कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने विकसित भारत के हमारे संकल्प को स्पष्ट करने के साथ ही कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात की है।  

‘राष्ट्रपति ने हमारा और देश का मार्गदर्शन किया’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वह राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का उत्तर देने के लिए यहां उपस्थित हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति ने अपने भाषण में विकसित भारत के हमारे संकल्प को विस्तार से बताया है। राष्ट्रपति ने महत्वपूर्ण मुद्दे उठाए हैं। उन्होंने हमारा और देश का मार्गदर्शन किया है।

‘अनेक सांसदों ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर अपने विचार व्यक्त किए’

पिछले दो दिनों में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर सदस्यों के विचारों का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कल और आज, अनेक सांसदों ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर अपने विचार व्यक्त किए हैं, विशेषकर वे जो पहली बार सांसद के रूप में हमारे बीच आए हैं। 

‘पहली बार चुनकर आए सांसदों ने सदन की गरिमा को बढ़ाया’

उन्होंने संसद के सभी नियमों का पालन किया और उनका व्यवहार भी एक अनुभवी सांसद जैसा था। पहली बार आने के बावजूद उन्होंने सदन की गरिमा को बढ़ाया है और अपने विचारों से इस बहस को और अधिक मूल्यवान बनाया है। पहली बार चुनकर आए सांसदों ने सभी नियमों का पालन करते हुए अपने विचार व्यक्त किए। ऐसा करके उन्होंने सदन की गरिमा को बढ़ाया है। 

‘दुनिया के सबसे बड़े चुनाव अभियान में जनता ने हमें चुना’

प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े चुनाव अभियान में जनता ने हमें चुना है। मैं कुछ लोगों का दर्द समझ सकता हूं। लगातार झूठ फैलाने के बावजूद उन्हें भारी हार का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि 25 करोड़ से अधिक लोगों को गरीबी से बाहर निकालने के हमारे बड़े अभियान ने हमें चुनावों के दौरान आशीर्वाद दिलाया है। पीएम मोदी ने कहा, 2014 के बाद नीतियों में परिवर्तन, निर्णयों में गति और निष्ठा प्रमाणिकता का परिणाम है कि दुनिया के अच्छे बैंकों में आज भारत का स्थान बन गया है। 

‘2014 के बाद के हिंदुस्तान ने आतंकवाद के आकाओं को सबक सिखाने का दिखाया सामर्थ्य’

उन्होंने यह भी कहा कि वो भी एक वक्त था कि जब आतंकी आ करके जी चाहे वहां, जब चाहे वहां हमला कर सकते थे। 2014 के पहले निर्दोष मारे जाते थे, हिंदुस्तान के कोने-कोने को टारगेट किया जाता था और सरकारें चुपचाप बैठी रहती थी, मुंह तक खोलने को तैयार नहीं थी। 2014 के बाद का हिन्दुस्तान घर में घुस कर मारता है, सर्जिकल स्ट्राइक करता है, एयर स्ट्राइक करता है और आतंकवाद के आकाओं को भी सबक सिखाने का सामर्थ्य दिखा दिया है।

‘हमारा एकमात्र लक्ष्य नेशन फर्स्ट’

पीएम मोदी ने कहा, देश की जनता ने देखा है कि हमारा एकमात्र लक्ष्य नेशन फर्स्ट है, ‘भारत सर्वप्रथम’ है। हमारी हर नीति, हमारा हर निर्णय, हमारे हर कार्य का एक ही तराजू रहा है। ‘भारत प्रथम’ की भावना के साथ देश में आवश्यक रिफॉर्म्स को हमने लगातार जारी रखा है।

‘जब देश विकसित होता है तब कोटि-कोटि जनों के सपने पूरे होते हैं’

पीएम मोदी ने कहा, जब देश विकसित होता है तब कोटि-कोटि जनों के सपने पूरे होते हैं। जब देश विकसित होता है तब कोटि-कोटि जनों के संकल्प सिद्ध होते हैं। जब देश विकसित होता है तब आने वाली पीढ़ियों के सपनों को पूरा करने के लिए एक मजबूत नींव तैयार हो जाती है।

इस दौरान विपक्ष नारेबाजी करता रहा। इस पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के दौरान विरोध करने के लिए विपक्ष के नेता राहुल गांधी को ऐसा नहीं करने की बात कहते हुए उनकी आलोचना की। 

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5269121
आखरी अपडेट: 22nd Jul 2024