प्रतिक्रिया | Tuesday, July 16, 2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (बुधवार) बिहार के दौरे पर पहुंच रहे हैं। इस दौरान वह विश्व प्रसिद्ध ऐतिहासिक नालंदा विश्वविद्यालय का नया परिसर राष्ट्र को समर्पित करेंगे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बिहार दौरे का कार्यक्रम एक्स हैंडल पर साझा किया है। भाजपा के एक्स हैंडल पर उपलब्ध विवरण के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (बुधवार) सुबह पौने दस बजे नालंदा भग्नावशेष का भ्रमण कर अवलोकन करेंगे। पीएम इसके 15 मिनट बाद नालंदा विश्वविद्यालय के नए परिसर का उद्घाटन करेंगे।

बिहार के राजगीर में इस अवसर के साक्षी बनेंगे 17 देशों के मिशन प्रमुख

भारत सरकार के पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) की विज्ञप्ति में कहा गया है कि नालंदा विश्वविद्यालय के नवीन परिसर का उद्घाटन समारोह बिहार के राजगीर में होगा। इसकी परिकल्पना भारत और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के देशों के बीच संयुक्त सहयोग के रूप में की गई है। इस उद्घाटन समारोह में 17 देशों के मिशन प्रमुखों सहित कई लब्ध प्रतिष्ठित अतिथि मौजूद रहेंगे।

नालंदा विश्वविद्यालय के नवीन परिसर की खासियत

परिसर में 40 कक्षाओं वाले दो शैक्षणिक ब्लॉक हैं। इनकी कुल बैठने की क्षमता लगभग 1900 है। इसमें 300 सीटों की क्षमता वाले दो सभागार हैं। इसमें लगभग 550 छात्रों की क्षमता वाला एक छात्रावास है। इसमें अंतरराष्ट्रीय केंद्र, 2000 व्यक्तियों तक की क्षमता वाला एम्फी थियेटर, फैकल्टी क्लब और खेल परिसर सहित कई अन्य सुविधाएं भी हैं।

यह परिसर नेट जीरो ग्रीन कैंपस

यह परिसर नेट जीरो ग्रीन कैंपस है। यह सौर संयंत्र, घरेलू और पेयजल शोधन संयंत्र, अपशिष्ट जल के पुन: उपयोग के लिए जल पुनर्चक्रण संयंत्र, 100 एकड़ जल निकाय और कई अन्य पर्यावरण अनुकूल सुविधाओं के साथ आत्मनिर्भर रूप से कार्य करता है।

नालंदा विश्वविद्यालय का इतिहास से गहरा संबंध

नालंदा विश्वविद्यालय का इतिहास से गहरा संबंध है। लगभग 1600 वर्ष पूर्व स्थापित किए गए मूल नालंदा विश्वविद्यालय को विश्व के प्रथम आवासीय विश्वविद्यालयों में से एक माना जाता है। वर्ष 2016 में नालंदा के भग्नावशेष को संयुक्त राष्ट्र विरासत स्थल घोषित किया जा चुका है। (इनपुट-हिंदुस्थान समाचार)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4919884
आखरी अपडेट: 16th Jul 2024