प्रतिक्रिया | Monday, June 24, 2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 मई से 1 जून तक तमिलनाडु के कन्याकुमारी में प्रसिद्ध विवेकानंद रॉक मेमोरियल का दौरा करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी लोकसभा चुनाव अभियान के समापन पर ध्यान करेंगे। प्रधानमंत्री रॉक मेमोरियल में 30 मई की शाम से 1 जून की शाम तक ध्यान मंडपम में उसी स्थान पर दिन-रात ध्यान करेंगे जहां स्वामी विवेकानंद ने ध्यान किया था।

कितना अहम है यह स्थान ?

बता दें कन्याकुमारी वह स्थान है जहां स्वामी विवेकानंद को भारत माता का विजन दिखा था। इस शिला का स्वामी विवेकानन्द के जीवन पर बड़ा प्रभाव पड़ा। लोगों का मानना है कि जैसे सारनाथ गौतम बुद्ध के जीवन में एक विशेष स्थान रखता है, वैसे ही यह शिला स्वामी विवेकानन्द के जीवन में भी वैसा ही स्थान रखती है। यहीं पर वे देश भर में घूमने के बाद पहुंचे और 3 दिनों तक तपस्या की और एक विकसित भारत का सपना देखा।

पौराणिक कथाओं के अनुसार, देवी पार्वती भी भगवान शिव की प्रतीक्षा करते समय उसी स्थान पर एक पैर पर ध्यान करती थीं।

यह भारत का सबसे दक्षिणी छोर है। इसके अलावा, यह वह स्थान है जहां भारत की पूर्वी और पश्चिमी तट रेखाएं मिलती हैं। यह हिंद महासागर, बंगाल की खाड़ी और अरब सागर का मिलन बिंदु भी है। पीएम मोदी कन्याकुमारी जाकर राष्ट्रीय एकता का संकेत दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी को चुनाव अभियानों के अंत में आध्यात्मिक यात्राएं करने के लिए जाना जाता है। इसके अनुरूप, वह 30 मई को कन्याकुमारी पहुंचेंगे और 1 जून तक वहां रहेंगे।

2019 में चुनाव प्रचार थमने के बाद केदारनाथ गए थे पीएम

बताना चाहेंगे इससे पहले वर्ष 2019 में, उन्होंने केदारनाथ का दौरा किया था और 2014 में उन्होंने शिवाजी के प्रतापगढ़ का दौरा किया था। 543 लोकसभा सीटों के लिए चुनाव 19 अप्रैल से सात चरणों में हो रहे हैं। वहीं वोटों की गिनती आगामी 4 जून को होगी। (इनपुट-एएनआई)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3972199
आखरी अपडेट: 24th Jun 2024