प्रतिक्रिया | Saturday, July 13, 2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने तीसरे कार्यकाल की पहली विदेश यात्रा पर आज गुरुवार को इटली रवाना होंगे। यहां वे दुनिया की सात बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों के समूह G7 की बैठक में भाग लेंगे। इस शिखर सम्मेलन में सात सदस्य देशों अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, जर्मनी, इटली, जापान और फ्रांस के साथ-साथ यूरोपीय संघ भी भाग लेगा। 

G7 शिखर सम्मेलन 13 से 15 जून तक 

G7 शिखर सम्मेलन 13 से 15 जून तक इटली के अपुलीया क्षेत्र में बोर्गो एग्नाज़िया के लक्जरी रिसॉर्ट में आयोजित किया जाएगा। माना जा रहा है कि इसमें यूक्रेन और गाजा में जारी संघर्ष का मुद्दा सबसे ज्यादा हावी रहेगा। 

इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी ने किया आमंत्रित

इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी ने प्रधानमंत्री मोदी को G7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया था। इसी के साथ G7 शिखर सम्मेलन में भारत की यह 11वीं भागीदारी होगी और प्रधानमंत्री मोदी की G7 शिखर सम्मेलन में लगातार पांचवीं भागीदारी होगी। 

द्विपक्षीय बैठकें और चर्चाएं करने की उम्मीद 

इस शिखर सम्मेलन के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी द्वारा G7 और आउटरीच देशों के नेताओं के साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के साथ द्विपक्षीय बैठकें और चर्चाएं करने की उम्मीद है।

भारत और ग्लोबल साउथ के अहम मुद्दों पर चर्चा के लिए निभाएंगे महत्वपूर्ण भूमिका

इस संबंध में इटली में भारतीय राजदूत वाणी राव ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी G7 शिखर सम्मेलन में उपस्थित अन्य विश्व नेताओं के साथ भारत और ग्लोबल साउथ के लिए महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए इस वैश्विक मंच पर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। 

वहीं इस संबंध में बुधवार को विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा ने पत्रकार वार्ता कर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि G7 शिखर सम्मेलन में भारत की नियमित भागीदारी वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए नई दिल्ली के प्रयासों की बढ़ती मान्यता की ओर इशारा करती है।

विदेश सचिव क्वात्रा ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा अपनी इतालवी समकक्ष जियोर्जिया मेलोनी के साथ भी द्विपक्षीय बैठक करने की उम्मीद है और दोनों नेताओं द्वारा द्विपक्षीय संबंधों के संपूर्ण पहलुओं की समीक्षा किए जाने की उम्मीद है।

शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे ये शीर्ष नेता

शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले शीर्ष नेताओं में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉ, जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा और कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो शामिल होंगे। यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की का भी अपने देश में जारी संघर्ष पर एक सत्र होगा। 

भारत स्विट्जरलैंड में शांति शिखर सम्मेलन में लेगा भाग

क्वात्रा ने बताया कि भारत स्विट्जरलैंड में यूक्रेन शांति शिखर सम्मेलन में उचित स्तर पर भाग लेगा। हालांकि शिखर सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व कौन करेगा इसकी अभी जानकारी नहीं दी गई है। (इनपुट-एएनआई)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4770022
आखरी अपडेट: 13th Jul 2024