प्रतिक्रिया | Tuesday, April 23, 2024

28/03/24 | 4:02 pm | India

ब्रासीलिया में दूसरी G20 रोजगार कार्य समूह की बैठक में कार्यस्थल पर लैंगिक समानता और विविधता को बढ़ावा देने हुआ पर विचार-विमर्श

भारत ने ब्रासीलिया में दूसरी जी20 रोजगार कार्य समूह की बैठक में भाग लिया। ब्राजील की अध्यक्षता के तहत दो दिवसीय दूसरी रोजगार कार्य समूह (ईडब्ल्यूजी) की बैठक 27 मार्च को ब्रासीलिया में शुरू हुई। बता दें कि जी20 ईडब्ल्यूजी का काम सभी के लिए मजबूत, टिकाऊ, संतुलित और भरपूर नौकरियों से युक्त विकास के लिए श्रम, रोजगार और सामाजिक मुद्दों का समाधान करना है।

श्रम और रोजगार मंत्रालय ने बताया कि भारत G20 ट्रोइका का सदस्य है, जिसका प्रतिनिधित्व श्रम और रोजगार सचिव सुमिता डावरा कर रही हैं और ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका के साथ भारत दूसरी ईडब्ल्यूजी बैठक की सह-अध्यक्षता कर रहा है। उद्घाटन सत्र की शुरुआत ब्राजील के श्रम और रोजगार राज्य मंत्री लुइज मारिन्हो के भाषण से हुई। इसके बाद सुमिता डावरा ने कहा कि ब्रासीलिया में दूसरे ईडब्ल्यूजी के प्राथमिकता वाले क्षेत्र भारत की अध्यक्षता सहित पिछली G20 अध्यक्षता के प्राथमिकता वाले क्षेत्रों और परिणामों के साथ संरेखित हैं। इस अवसर पर उन्होंने कामकाजी दुनिया में स्थायी सकारात्मक बदलाव लाने के लिए बहु-वर्षीय एजेंडे में निरंतरता बने रहने की सराहना की। इस स्थिति को न केवल कायम रखा गया है, बल्कि भारत की अध्यक्षता के दौरान ईडब्ल्यूजी द्वारा शुरू किए गए कार्यों को भी आगे बढ़ावा दिया गया है।

बैठक के पहले दिन, कार्यस्थल पर लैंगिक समानता और विविधता को बढ़ावा देने के एक समग्र विषय पर विचार-विमर्श किया गया। भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने नस्ल, लिंग, जातीयता या सामाजिक-आर्थिक पृष्ठभूमि से इतर सभी के लिए समान प्रतिनिधित्व और सशक्तिकरण सुनिश्चित करके समावेशी वातावरण बनाने की आवश्यकता पर जोर दिया।

मंत्रालय ने बताया कि समावेशन, नवाचार और विकास को बढ़ावा देने के लिए दूसरी ईडब्ल्यूजी बैठक का जोर मुख्य रूप से गुणवत्तापूर्ण रोजगार सृजित करना और उपयुक्त श्रम को बढ़ावा देना, डिजिटल और ऊर्जा परिवर्तनों के बीच एक उचित बदलाव सुनिश्चित करना, सभी के लिए जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए प्रौद्योगिकियों का दोहन करना तथा रोजगार की दुनिया में लैंगिक समानता और विविधता को बढ़ावा देने पर है।

उल्लेखनीय है कि भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने कार्यस्थल और उससे बाहर लैंगिक समानता, प्रवासी श्रमिकों के लिए उठाए गए कदमों, वरिष्ठ नागरिकों के पुन: रोजगार को बढ़ावा देना और दिव्यांगों और कमजोर वर्ग के लोगों की कार्यबल में भागीदारी को बढ़ावा देने में भारत द्वारा उठाए गए महत्वपूर्ण कदमों पर प्रकाश डाला। बता दें कि दूसरे ईडब्ल्यूजी के दूसरे दिन यानी की आज चर्चा के एजेंडे को आगे बढ़ाया जाएगा।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 901132
आखरी अपडेट: 23rd Apr 2024