प्रतिक्रिया | Thursday, April 18, 2024

03/01/24 | 12:18 pm

ननिहाल के 300 टन चावल और 100 टन सब्जियों से बनेगा विशेष भोग, छत्तीसगढ़ में 22 जनवरी को ‘ड्राई डे’

अयोध्या में श्रीरामलला के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। प्राण प्रतिष्ठा के दौरान भगवान राम के लिए जो विशेष भोग बनेगा, उसमें भगवान श्रीराम की ननिहाल छत्तीसगढ़ के चावल का उपयोग होगा। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ से अब 100 टन हरी सब्जियां अयोध्या भेजी जाएंगी। 
वहीं सीएम विष्णु देव साई ने कहा कि उनकी सरकार ने 22 जनवरी को 'ड्राई डे' घोषित करने का फैसला किया है क्योंकि उस दिन अयोध्या में राम मंदिर का अभिषेक होगा।

चावल के बाद अब 100 टन सब्जियां जाएंगी अयोध्या
दरअसल, छले दिनों श्रीराम के ननिहाल यानी छत्तीसगढ़ से 300 मीट्रिक टन चावल के बाद अब 100 टन हरी सब्जियां भी अयोध्या भेजी जाएंगी। इसकी जानकारी खुद मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने एक्स पर मंगलवार को दी है। 

भगवान राम का ननिहाल है छत्तीसगढ़
मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने अपने पोस्ट में बताया है कि “आगामी 22 जनवरी को अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान रामचंद्र जी की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा होने वाली है, जिस पर हर सनातनी को गर्व है। मेरे प्रदेश के अन्नदाताओं ने भी राम काज के लिए अपने खेतों से उगाई गई 100 टन सब्जियां राम मंदिर निर्माण कार्य में योगदान स्वरूप भेजने का निर्णय लिया है। भगवान राम जन-जन हृदय में बसे हैं ऐसे में प्रभु श्रीराम के ननिहाल के किसानों का ये अगाध प्रेम और भक्ति का ये अद्भुत स्वरूप सराहनीय और वंदनीय है।”

किसानों ने जाहिर की इच्छा
प्रगतिशील किसान संघ के संरक्षक मंडल के सदस्य मितुल कोठारी ने बताया कि प्रगतिशील किसान संघ के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की और उन्हें कुम्हारी में होने वाले किसान मेले में आने का न्योता दिया। इस दौरान किसानों ने इच्छा जाहिर की कि वे 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा में भक्तों के लिए बनने वाले प्रसाद में अपनी तरफ से 100 टन सब्जी का योगदान देना चाहते हैं। किसानों के इस प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री ने खुशी जाहिर की।

अयोध्या के लिए 300 टन उत्तम गुणवत्ता का चावल 
इससे पहले छत्तीसगढ़ शासन के कैबिनेट मंत्री श्याम बिहारी जायसवाल ने बताया कि सभी राइस मिलर्स ने पूरे प्रदेश से 300 टन उत्तम गुणवत्ता का चावल एकत्रित किया गया। वहीं अब अयोध्या के लिए चावल को रवाना कर दिया गया है। इसका उपयोग वहां के प्रसाद में होगा। 
मुख्यमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश से लगभग 300 टन चावल अयोध्या भेजी गई है। राइस मिलर एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेश अग्रवाल ने बताया कि रामलला प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए छत्तीसगढ़ में काफी उत्साह है। 15 से अधिक अच्छी किस्मों के चावल ट्रकों के जरिये भेजे जाएंगे।

No related posts found.
कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 732484
आखरी अपडेट: 17th Apr 2024