प्रतिक्रिया | Tuesday, June 18, 2024

05/06/24 | 12:01 pm

झारखंड में एनडीए की नौ और पांच लोकसभा सीटों पर इंडी गठबंधन की जीत

लोकसभा चुनाव-2024 के परिणाम की घोषणा हो चुकी है। इस बार झारखंड की 14 सीटों पर भाजपा को तीन सीटों का नुकसान हुआ है। वहीं पिछले चुनाव में भाजपा को 11 सीट जीतने में कामयाबी मिली थी। आजसू ने गिरिडीह में दूसरी बार चुनाव जीता है। एनडीए से आजसू के उम्मीदवार चंद्रप्रकाश चौधरी अपनी जमीन बचाने में कामयाब रहे लेकिन भाजपा राज्य की सभी पांच आदिवासी सुरक्षित सीट हार गई है। 

निशिकांत दुबे ने मारी बाजी

गोड्डा लोकसभा सीट पर निशिकांत दुबे को कुल 6,93,140 वोट मिले। वहीं प्रदीप यादव को 5,91,327 मिले हैं। दोनों के बीच काफी कड़ा मुकाबला चला। दोनों ही बीच-बीच में आगे और पीछे होते रहे, लेकिन अंत में निशिकांत दुबे ने बाजी मार ली। भाजपा ने पलामू, चतरा, कोडरमा, जमशेदपुर और हजारीबाग में बड़ी जीत हासिल की है। पलामू में वीडी राम 2,88,807 वोटों से तीसरी बार चुनाव जीते हैं। 

विद्युत वरण महतो की हैट्रिक

जमशेदपुर से विद्युत वरण महतो भी झामुमो के समीर मोहंती को 2,59,782 वोटों से हराकर तीसरी बार सांसद बने। कोडरमा में अन्नपूर्णा देवी ने भी माले विधायक और इंडी गठबंधन के प्रत्याशी विनोद सिंह को 3,77,014 वोटों से हराया। 

वहीं हजारीबाग में भी जेपी पटेल को मनीष जायसवाल ने 2,76,686 मतों से हराया। धनबाद में ढुलू महतो ने 3,31,583 वोट से कांग्रेस प्रत्याशी अनुपमा सिंह को हराया। रांची में संजय सेठ को 6,58,975 और यशस्विनी सहाय को 5,37,646 वोट मिले। संजय सेठ ने एक लाख से ज्यादा वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है। चतरा से भाजपा के कालीचरण ने कांग्रेस के केएन त्रिपाठी को दो लाख से ज्यादा मतों से हराया।

कालीचरण मुंडा ने डेढ़ लाख वोटों से दी अर्जुन मुंडा को शिकस्त

भाजपा राज्य की सभी पांच आदिवासी सुरक्षित सीट हार गई है। केवल इतना ही नहीं, राज्य की सबसे हाई प्रोफाइल खूंटी सीट से भाजपा उम्मीदवार और केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा को बड़ी हार हुई। कांग्रेस के कालीचरणन मुंडा को 511647 वोट मिले, जबकि भाजपा के अर्जुन मुंडा को 361972 मतों से संतोष करना पड़ा। अर्जुन मुंडा को कालीचरण मुंडा ने 2,20,959 मतों से हराया।

सीता सोरेन हारीं, नहीं भेद पाईं झामुमो का किला

झामुमो छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाली शिबू सोरेन की बड़ी बहू सीता सोरेन दुमका सीट से मैदान में थीं। उन्हें झामुमो के नलिन सोरेन ने 22,527 वोटों से हरा दिया। सीता सोरेन को 354936 वोट मिले जबकि नलिन सोरेन को 367992 वोट मिले।

सिंहभूम से कांग्रेस की सांसद रहीं गीता कोड़ा पाला बदल भाजपा से चुनाव लड़ीं। इस सीट पर झामुमो की जोबा मांझी ने गीता कोड़ा को 1,68,402 वोटों से हराया। राजमहल से झामुमो के विजय हांसदा ने हैट्रिक लगाई है। विजय हांसदा ने भाजपा के ताला मरांडी को 1,78,264 मतों से हराया। लोहरदगा से कांग्रेस के सुखदेव भगत ने भाजपा के समीर उरांव को 1,39,138 वोटों से हराया। झामुमो के बागी चमरा लिंडा लोहरदगा में फैक्टर नहीं बन पाए। 

वहीं गिरिडीह के गाण्डेय विधानसभा उपचुनाव में इंडी गठबंधन से झामुमो की प्रत्याशी पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन ने शानदार जीत दर्ज कर राजनीति में धमाकेदार एंट्री की है। उन्होंने एनडीए के दिलीप कुमार वर्मा को 27,1,49 मतों से मात दी। कल्पना को 1,09,827 मत मिले, जबकि दिलीप को 82,678 मत हासिल हुए। (इनपुट-हिंदुस्थान समाचार)

No related posts found.
कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3707933
आखरी अपडेट: 18th Jun 2024