प्रतिक्रिया | Tuesday, June 18, 2024

21/05/24 | 11:40 am

जम्मू-कश्मीर की जनता मताधिकार का प्रयोग करने और शासन की लोकतांत्रिक प्रणाली में हिस्सेदारी की इच्छुक : निर्वाचन आयोग

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में सोमवार 20 मई 2024 को आठ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के कई हिस्सों में मतदान हुआ। चुनाव आयोग ने बताया पिछले 8 लोकसभा चुनावों में बारामूला सर्वाधिक मतदान की ओर बढ़ रहा है, सोमवार (20 मई) को 5 बजे तक रिकॉर्ड 54.21 प्रतिशत मतदान हुआ। जम्मू-कश्‍मीर में शांति और सुरक्षा के वातावरण में मतदाता सुबह से ही मतदान के लिए कतारों में खड़े देखे गए। बता दें कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम, 2019 के लागू होने के बाद घाटी में यह पहला आम चुनाव है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की जनता मताधिकार का प्रयोग करने और शासन की लोकतांत्रिक प्रणाली में हिस्सेदारी की इच्छुक है।

निर्वाचन आयोग द्वारा जारी एक बयान में बताया गया, केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर संसदीय क्षेत्र में रिकॉर्ड 38.49 प्रतिशत मतदान के बाद,अब बारामूला संसदीय क्षेत्र पिछले 8 लोकसभा चुनावों में सर्वाधिक मतदान की ओर बढ़ा है। गौरतलब है कि सोमवार को बारामूला, कुपवाड़ा, बांदीपोरा और बडगाम जिलों में शाम 5 बजे तक 54.21 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

सीईसी राजीव कुमार ने साथी चुनाव आयुक्तों ज्ञानेश कुमार औरसुखबीर सिंह संधू के साथ चुनाव के सुचारु व शांतिपूर्ण संचालन में सिविल और सुरक्षा कर्मियों दोनों के प्रयासों की सराहना की तथा उत्साहपूर्ण भागीदारी के लिए जम्मू-कश्मीर के मतदाताओं का आभार प्रकट करते हुए कहा कि इससे एक स्पष्ट संदेश गया है कि जम्मू-कश्मीर की जनता मताधिकार का प्रयोग करने और शासन की लोकतांत्रिक प्रणाली में हिस्सेदारी की इच्छुक है।

बता दें, बारामूला संसदीय क्षेत्र के 2103 मतदान केंद्रों पर वोट डाले गए। मतदान केंद्रों पर मतदान लाइव वेबकास्टिंग के साथ संपन्‍न हुआ। संसदीय क्षेत्र में सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ और उत्साही मतदाताओं की लंबी कतारें वोट डालने के लिए इंतजार करती देखी गईं। वर्तमान में जारी आम चुनाव 2024 में बारामूला संसदीय क्षेत्र में 22 उम्मीदवार मैदान में हैं। इससे पहले, चौथे चरण में, श्रीनगर संसदीय क्षेत्र में श्रीनगर, गांदरबल, पुलवामा, बडगाम और शोपियां जिलों को आंशिक रूप से कवर करते हुए 38.49 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था, जो कई दशकों में सबसे अधिक था। अनुच्छेद 370 के निरस्त होने और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम, 2019 के लागू होने के बाद घाटी में यह पहला आम चुनाव है।

लोकसभा चुनाव 2024 के छठे चरण में 8 राज्यों/केन्द्र-शासित प्रदेशों के 889 उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे। इनमें जम्मू एवं कश्मीर के 3-अनंतनाग-राजौरी संसदीय क्षेत्र में स्थगित हुए चुनाव के लिए लड़ने वाले 20 उम्मीदवार भी शामिल हैं। 25 मई को छठे चरण का मतदान होगा। जम्मू-कश्मीर की अनंतनाग-राजौरी लोकसभा सीट पर भी मतदान छठे चरण में है। पहले यहां तीसरे चरण में वोटिंग होनी थी।

No related posts found.
कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3698972
आखरी अपडेट: 18th Jun 2024