प्रतिक्रिया | Saturday, July 13, 2024

21/06/24 | 11:13 pm

केन्द्रीय गृह मंत्री ने गुजरात के अहमदाबाद में 30 स्मार्ट स्कूलों का किया ई-लोकार्पण

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने आज (शुक्रवार) गुजरात के अहमदाबाद में 30 स्मार्ट स्कूलों का ई-लोकार्पण किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लाई गई नई शिक्षा नीति 2020 के तहत अहमदाबाद म्युनिसिपल स्कूल बोर्ड द्वारा 36 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित 30 स्मार्ट स्कूलों का आज लोकार्पण हुआ है।

उन्होंने कहा कि इनमें घाटलोडिया विधानसभा में 9 स्मार्ट स्कूल, वेजलपुर विधान सभा क्षेत्र में 10, नारणपुरा में चारऔर साबरमती में सात स्मार्ट स्कूल का लोकार्पण आज हुआ है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि इन 30 स्मार्ट स्कूलों के लोकार्पण से 10 हजार से अधिक बच्चों को नई शिक्षा नीति का सीधा फायदा मिलेगा और उनके जीवन में शिक्षा का प्रकाश फैलेगा। गृह मंत्री ने कहा कि गांधीनगर लोक सभा क्षेत्र के कुल 69 में से 59 स्कूल स्मार्ट स्कूल बन गए हैं और जो स्कूल बचे हैं वो भी जल्द ही स्मार्ट स्कूल में परिवर्तित हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि इन स्मार्ट स्कूलों के पाठ्यक्रम में स्किल डेवलपमेन्ट, वोकेशनल ट्रेनिंग, डिजिटल एम्पावरमेन्ट को शामिल किया गया है। इसके साथ ही गणित, विज्ञान प्रयोगशालाएं, फ्यूचर क्लासरूम, थ्री-डी एजुकेशनल चार्ट, थ्री-डी पेन्टिंग और भारतीय संस्कृति के सारे पहलुओं का अभ्यास भी सम्मिलित किया गया है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि 2024 के लोक सभा चुनावों के बाद आज पहली बार वे गुजरात आए हैं और मंत्री और सांसद बनने के बाद यहां उनका पहला कार्यक्रम समाज के निम्न और गरीब वर्ग के बच्चों के लिए आयोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि गांधीगनर लोकसभा क्षेत्र के मतदाताओं का उन पर सांसद के रूप में भरोसा करने के लिये वे हमेशा गांधीनगर की जनता के ऋणी रहेंगे और आनेवाले पांच साल गांधीनगर के हर क्षेत्र की प्रगति और विकास के साथ सबसे विकसित संसदीय क्षेत्र बनाने के प्रति कटिबद्ध रहेंगे।

अमित शाह ने कहा कि आज से 10 साल पहले 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रस्ताव रखा था कि 21जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के इस प्रस्ताव का दुनिया के लगभग 170 देशों ने समर्थन किया और पिछले 10 साल से हर वर्ष 21 जून को पूरा विश्व हमारे ऋषि-मुनियों की देन योग का अंतर्राष्ट्रीय दिवस मना रहा है। उन्होंने कहा कि दुनिया के करोड़ों लोगों ने योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाया है।

उन्होंने कहा कि गुजरात सरकार ने भी योग को प्रोत्साहन देने के लिए कई प्रयास किए है और इसके लिए बोर्ड का गठन, पाठ्यक्रम में स्थान देने जैसे कई कार्य किए हैं। इस अवसर पर गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4793520
आखरी अपडेट: 13th Jul 2024