प्रतिक्रिया | Wednesday, May 22, 2024

उत्तराखंड चारधाम यात्रा:15 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने कराया पंजीकरण, GMVN के गेस्ट हाउसों की बुकिंग बढ़ी

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा के लिए इस बार फिर श्रद्धालुओं में उत्साह है। चारधाम यात्रा के लिए अब तक जहां कुल 15 लाख 12 हजार 993 श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है वहीं जीएमवीएन गेस्ट हाउस की बुकिंग आठ करोड़ के पार पहुंच गई है। पर्यटन मंत्री का कहना है कि इस बार चारधाम यात्रा पिछले यात्रा के रिकॉर्ड को तोड़ेगी।

GMVN के गेस्ट हाउसों की बुकिंग बढ़ी
पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा है कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं की तादाद में काफी वृद्धि होगी। जिस प्रकार से बड़ी संख्या में यात्री अपना पंजीकरण करवा रहे हैं और यात्रा शुरू होने से पूर्व ही यात्रा मार्गों पर स्थित जीएमवीएन के गेस्ट हाउसों की बुकिंग में लगातार इजाफा हो रहा है उसे देखकर संभावना है कि इस बार भी चारधाम यात्रा पिछले वर्ष के 56.31 लाख श्रद्धालुओं के रिकॉर्ड को तोड़ेगी।
मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि चारधाम यात्रा से पूर्व यात्रा मार्गों पर स्थित जीएमवीएन के गेस्ट हाउसों के लिए श्रद्धालुओं ने 22 फरवरी से अभी तक 82588092.00 (आठ करोड़ पच्चीस लाख अट्ठासी हजार बयानवे) की बुकिंग करवा ली है और यह आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है।

5 अप्रैल से पंजीकरण शुरू
चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए 15 अप्रैल 2024 से पंजीकरण प्रारम्भ कर दिये गये थे। अभी तक गंगोत्री के लिए 277901, यमुनोत्री 253883, केदारनाथ 521052, बद्रीनाथ 436688 और हेमकुंड साहिब के लिए 23469 यात्रियों सहित कुल 1512993 श्रद्धालुओं ने अपना पंजीकरण कराया है।

इस बार टोकन/स्लॉट की व्यवस्था
उन्होंने कहा कि पर्यटकों और यात्रियों को देव दर्शनों के दौरान लम्बी कतारों एवं अधिक समय तक प्रतीक्षा न करनी पड़े इसके लिए चारधाम यात्रा में धामों के दर्शन के लिए टोकन/स्लॉट की व्यवस्था प्रारम्भ की गयी है। इसके लिए पंजीकरण / टोकन / सत्यापन व्यवस्था हेतु कार्यरत एजेंसी के साथ पर्यटन विभाग के अधिकारियों की ओर से धामों का स्थलीय निरीक्षण जिला प्रशासन, पुलिस अधिकारियों के साथ कर स्थल भी चयनित किये जाने प्रस्तावित हैं। इस व्यवस्था के लागू हो जाने पर किसी भी यात्री को कतार/लाइन में एक घंटे से अधिक का इंतजार नहीं कराना होगा। यात्रा काल में 115 उपनल और पीआरडी के माध्यम से पर्यटक सुरक्षा, सहायता मित्रों की तैनाती की जा रही है।

स्टील फ्रेम शौचालयों की शुरुआत
चारधाम यात्रा के दौरान सफाई व्यवस्था का विशेष ध्यान रखा गया जायेगा। यात्रा मार्गों पर वर्तमान में सुलभ इंटरनेशनल संस्था के माध्यम से 1584 सीटों वाले 147 स्थाई शौचालयों की व्यवस्था है। इसके अतिरिक्त चारधाम यात्रा मार्गों यथा गंगोत्री तथा यमुनोत्री मार्ग पर 82 सीट, जनपद रुद्रप्रयाग के अन्तर्गत विभिन्न स्थलों पर निर्मित कुल 251 सीट, जनपद चमोली के यात्रा मार्ग पर 60 सीट एवं हेमकुंड साहिब यात्रा मार्ग पर 80 सीट स्टील फ्रेम शौचालयों का संचालन किया जा रहा है।

यात्रा के लिए स्टेट लेवल कंट्रोल रूम संचालित
पर्यटन मंत्री महाराजा ने चारधाम यात्रा के दृष्टिगत एक स्टेट लेवल कंट्रोल रूम की स्थापना देहरादून स्थित उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद मुख्यालय की गई है जो कि पूरे यात्राकाल के दौरान संचालित रहेगा। प्रतिदिन प्रातः 7 बजे से रात्रि 10 बजे तक संचालित कन्ट्रोल रूम वर्तमान में भी संचालित है।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 1873630
आखरी अपडेट: 22nd May 2024