प्रतिक्रिया | Saturday, April 13, 2024

ऑस्ट्रेलिया के साथ द्विपक्षीय समुद्री सहयोग को और मजबूत करेगा भारत 

रॉयल ऑस्ट्रेलियन नेवी के चीफ वाइस एडमिरल मार्क हैमंड का बुधवार को भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार ने स्वागत किया। मार्क हैमंड 02 से 06 अप्रैल तक भारत की आधिकारिक यात्रा पर हैं। 

ऑस्ट्रेलियाई नौसेना प्रमुख भारत दौरे पर, साउथ ब्लॉक में दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

इस दौरान हैमंड ने साउथ ब्लॉक लॉन में नौसेना के गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण किया। उन्होंने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर औपचारिक पुष्पांजलि भी अर्पित की। साथ ही दोनों नौसेना प्रमुखों के बीच चर्चा में द्विपक्षीय समुद्री सहयोग को मजबूत करने के तरीकों पर भी ध्यान केंद्रित किया गया। 

ऑस्ट्रेलियाई नौसेना प्रमुख ने यहां से की अपने दौरे की शुरुआत

बताना चाहेंगे वाइस एडमिरल मार्क हैमंड ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर औपचारिक पुष्पांजलि अर्पित करके अपने दौरे की शुरुआत की। साउथ ब्लॉक पहुंचने पर भारतीय नौसेना की ओर से पारंपरिक गार्ड ऑफ ऑनर के साथ उनका स्वागत किया गया। यात्रा के दौरान आज नई दिल्ली में नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार के साथ बातचीत की। दोनों नौसेना प्रमुखों के बीच चर्चा में द्विपक्षीय समुद्री सहयोग को मजबूत करने के तरीकों पर ध्यान केंद्रित किया गया, जिसमें बढ़ी हुई परिचालन व्यस्तताएं, प्रशिक्षण आदान-प्रदान और सूचना साझा करना शामिल है। 

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान से भी मिले ऑस्ट्रेलियाई नौसेना प्रमुख
 
ऑस्ट्रेलियाई नेवी चीफ नई दिल्ली में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान से भी मिले। बातचीत में द्विपक्षीय रक्षा सहयोग को बढ़ाने, आपसी विश्वास को मजबूत करने और दोनों देशों के बीच मजबूत संबंधों पर चर्चा हुई। दोनों देशों के बीच सहयोग के भविष्य के रास्ते तय करते हुए आला प्रौद्योगिकियों और रक्षा उद्योग में सहयोग के रास्ते तलाशे गए। वह चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी और रक्षा सचिव गिरधर अरमाने से भी मुलाकात करेंगे। मार्क हैमंड कोच्चि में दक्षिणी नौसेना कमान और मुंबई में पश्चिमी नौसेना कमान का दौरा करके संबंधित कमांडरों के साथ बातचीत करेंगे। 

स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत पर भी जाएंगे वाइस एडमिरल मार्क हैमंड 

वह देश के पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत, मुंबई में इंटीग्रेटेड सिम्युलेटर कॉम्प्लेक्स नेवल डॉकयार्ड और मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड (एमडीएल) का भी दौरा करेंगे। भारत और ऑस्ट्रेलिया हिंद-प्रशांत में कई समसामयिक समुद्री सुरक्षा मुद्दों पर समान दृष्टिकोण साझा करते हैं। दोनों देश हिंद महासागर नौसेना संगोष्ठी (आईओएनएस), हिंद महासागर रिम एसोसिएशन (आईओआरए), पश्चिमी प्रशांत जैसे कई द्विपक्षीय और बहुपक्षीय मंचों पर मिलकर काम कर रहे हैं। 

पिछले माह विशाखापत्तनम में हुए बहुराष्ट्रीय अभ्यास ‘मिलन’ के दौरान रॉयल ऑस्ट्रेलियाई जहाज एचएमएएस वाररामुंगा भी शामिल हुआ था। इस समुद्री अभ्यास के बाद रॉयल ऑस्ट्रेलियाई नौसेना के प्रमुख की यह यात्रा दोनों नौसेनाओं के बीच मजबूत और लंबे समय तक चलने वाले द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करती है। (इनपुट-हिंदुस्थान समाचार)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 642528
आखरी अपडेट: 13th Apr 2024