प्रतिक्रिया | Wednesday, May 29, 2024

Weather Alert: देश के कई हिस्सों में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी, इन राज्यों में आंधी, बारिश का भी अनुमान

 

भारत के कई हिस्सों में भीषण का गर्मी का दौर शुरू हो गया है। मौसम विभाग ने तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र और कर्नाटक में भीषण गर्मी का अनुमान व्यक्त किया है। राजस्थान और मध्यप्रदेश में भी इस महीने की नौ तारीख तक भीषण गर्मी का प्रकोप बना रहेगा। वहीं मौसम विभाग ने कहा है कि पूर्वोत्‍तर भारत में मंगलवार तक भारी वर्षा तथा गरज के साथ छींटे पडने और तेज हवाएं चलने की संभावना है। मणिपुर में रविवार को राज्य के विभिन्न हिस्सों में ओलावृष्टि के साथ मूसलाधार बारिश हुई। बारिश के कारण कई घरों और संपत्ति को नुकसान पहुंचा है, किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

कश्मीर में बारिश का पूर्वानुमान
मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर में 10 मई तक कुछ स्थानों पर दोपहर में गरज के साथ बारिश की संभावना के साथ आम तौर पर शुष्क मौसम का पूर्वानुमान लगाया है। आम तौर पर शुष्क मौसम की उम्मीद है और दोपहर के दौरान कुछ स्थानों पर गरज के साथ बारिश की संभावना से इनकार भी नहीं किया जा सकता है। 11 मई को आंशिक रूप से बादल छाए रहने और कुछ स्थानों पर हल्की बारिश और गरज के साथ बारिश होने का पूर्वानुमान है। 12 मई को कई स्थानों पर हल्की बारिश होने का पूर्वानुमान है।

मध्य प्रदेश गर्मी का प्रकोप जारी, कुछ शहरों में आंधी, बादल और लू का अलर्ट
मध्य प्रदेश में तेज गर्मी का दौर जारी है। कई जिलों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंचा। शाजापुर, नौगांव और खजुराहो में पारा 42 डिग्री से अधिक दर्ज किया गया। जबकि भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और उज्जैन सीजन के सबसे गर्म रहे। वहीं, मौसम विभाग ने अगले 4 दिन तक प्रदेश में आंधी, बादल और लू का अलर्ट जारी किया है। मालवा-निमाड़ यानी इंदौर-उज्जैन संभाग के जिलों में तेज गर्मी पड़ेगी और पूर्वी-दक्षिण हिस्से यानी नर्मदापुरम, छिंदवाड़ा, बैतूल समेत 13 जिलों में बादल-आंधी वाला मौसम रहेगा। हालांकि वेस्टर्न डिस्टरबेंस (पश्चिमी विक्षोभ) एक्टिव होने से कुछ जिलों में बूंदाबांदी की संभावना है।

उत्तराखंड में मौसम विभाग का येलो अलर्ट जारी
मई का महीना शुरू हो चुका है। ऐसे में तपिश भी बढ़ने लगी है, जिससे मैदानी इलाकों में लोग गर्मी का सामना करने लगे हैं। इसके अलावा वनाग्नि की घटनाएं भी देखने को मिल रही हैं। ऐसे में अगर बारिश होती है तो कुछ हद तक वनाग्नि की घटनाओं पर लगाम लग सकती है। उत्तराखंड में तपिश के बीच बारिश राहत बनकर बरस सकती है। मौसम विभाग का कहना है प्रदेश के कुछ जिलों में बारिश हो सकती है। साथ ही झोंकेदार हवाएं चल सकती हैं। इसे लेकर मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है।
उत्तराखंड मौसम विभाग का कहना है कि उत्तरकाशी, चमोली और पिथौरागढ़ जिले में कहीं-कहीं बहुत हल्की से हल्की बारिश हो सकती है। इस दौरान बिजली भी चमक सकती है। अन्य जिलों में मौसम शुष्क बना रहेगा। मौसम विभाग के मुताबिक आज देहरादून, पौड़ी, हरिद्वार, नैनीताल, चंपावत और उधमसिंह नगर जिले में दिन के समय कहीं-कहीं झोंकेदार हवाएं चलने की संभावना है। हवा की रफ्तार 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है। इसको लेकर मौसम विभाग ने येलो जारी किया है। देहरादून में मौसम के पूर्वानुमान की बात करें तो आज आसमान मुख्यत: साफ रहने से लेकर आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। इसके अलावा अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।

यूपी के मौसम में एक बार फिर बदलाव होने के आसार
उत्तर प्रदेश के मौसम में एक बार फिर बदलाव होने के आसार हैं। रविवार को दिनभर आसमान में बादलों की आवाजाही बनी रही, लेकिन तापमान में बढ़ोतरी हो गई। मौसम विभाग का कहना है कि आगामी दो दिन उत्तर प्रदेश में तेज हवाओं के साथ बारिश की चेतावनी है।
चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. एस एन सुनील पाण्डेय ने रविवार को बताया कि पश्चिमी विक्षोभ मध्य क्षोभमंडलीय पश्चिमी हवाओं में एक गर्त के रुप में अपनी धुरी के साथ समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर है, जो लगभग 65 डिग्री पूर्व देशांतर के साथ 32 डिग्री उत्तर अक्षांश के उत्तर में चल रहा है। पश्चिमी विक्षोभ मध्य और ऊपरी क्षोभमंडल में गर्त के रूप में पश्चिमी हवाओं के साथ चल रहा है, जिसकी धुरी समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर है, जो लगभग 25° उत्तर अक्षांश के उत्तर में 54 डिग्री पूर्व देशांतर के साथ चल रही है।

उत्तर-पश्चिमी राजस्थान और आसपास के इलाकों पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और आसपास के क्षेत्रों पर एक चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है। मराठवाड़ा और आसपास के इलाकों पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है।
एक ट्रफ रेखा मेघालय से उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल पर चक्रवाती परिसंचरण, झारखंड, ओडिशा, दक्षिण छत्तीसगढ़ और विदर्भ के से से गुजरते हुए मराठवाड़ा पर चक्रवाती परिसंचरण तक फैली हुई है। मौसम की इन गतिविधियों से आगामी दो दिनों में आंधी व हल्की बारिश की चेतावनी है। इसके साथ आसमान में बादलों की आवाजाही बनी रहेगी और तापमान लगभग सामान्य रहने की संभावना है।

 

बिहार में तेज आंधी और बारिश के आसार
वहीं बिहार में मौसम का मिजाज बदल गया है। सोमवार से अगले पांच दिनों तक बिहार के अधिकतर इलाकों में तेज आंधी और बारिश के आसार हैं। जिससे अधिकतम तापमान में 5 से 6 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की जा सकती है।
पटना मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक, सोमवार को उत्तर बिहार के कुछ जगहों पर गर्जन और वज्रपात के साथ बारिश की संभावना है। इस दौरान 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चल सकती है। मंगलवार को पटना समेत राज्य के ज्यादातर जिलों में तेज आंधी के साथ बारिश हो सकती है। इसको लेकर मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।
आंधी और बारिश की संभावना को देखते हुए मौसम विभाग ने लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है। इसके साथ ही किसानों से अपील की है कि वे अपनी फसल को सुरक्षित कर लें। आईएमडी ने राज्य के लोगों से अपील की है कि वे आपदा प्रबंधन द्वारा जारी निर्देशों का पालन करें। बिजली चमकने या गर्जन के दौरान सुरक्षित स्थानों पर रहें।

भीषण गर्मी के बीच राहत की बारिश का अनुमान
पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता सहित दक्षिण बंगाल के के अन्य हिस्सों में सोमवार को भीषण गर्मी के बीच राहत की बारिश हो सकती है। मौसम विभाग की ओर से जारी बयान में बताया गया है की राजधानी कोलकाता में न्यूनतम तापमान 29.18 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है जबकि अधिकतम तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस है जो सामान्य समाज एक डिग्री ज्यादा है आसमान में बादल छाए हुए हैं दिन के दौरान बारिश हो सकती है।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 2180768
आखरी अपडेट: 29th May 2024