प्रतिक्रिया | Saturday, April 13, 2024

15/11/23 | 3:01 pm

लोक नायक बिरसा मुंडा के पैतृक गांव जाने वाले पहले प्रधानमंत्री बने नरेंद्र मोदी, ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ को दिखाई हरी झंडी 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लोक नायक बिरसा मुंडा की जयंती पर झारखंड के खूंटी जिले में उनके पैतृक गांव उलिहातु में आदिवासी नायक की प्रतिमा पर पुष्पाजंलि अर्पित की। उलिहातु का दौरा करने वाले पहले प्रधानमंत्री पीएम मोदी का स्थानीय लोगों ने ढोल और मांदर जैसे पारंपरिक वाद्ययंत्रों की धुन पर नृत्य करते हुए पूरे गर्मजोशी से स्वागत किया।

प्रधानमंत्री ने आज रांची में भगवान बिरसा मुंडा मेमोरियल पार्क और स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय का दौरा किया। उनके साथ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, केंद्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा और झारखंड के राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन भी मौजूद रहे। बिरसा मुंडा के अपार योगदान को स्वीकार करते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 10 नवंबर, 2021 को 15 नवंबर को 'जनजातीय गौरव दिवस' के रूप में घोषित किया था। पीएम मोदी तीसरे जनजातीय गौरव दिवस के उपलक्ष्य में एक कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे।

झारखंड के राज्य स्थापना दिवस पर पीएम मोदी ने बधाई 

प्रधानमंत्री ने झारखंड के राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने एक्स पर अपने एक पोस्ट में पीएम ने कहा झारखंड अपने खनिज संसाधनों के साथ-साथ आदिवासी समाज के साहस, वीरता और स्वाभिमान के लिए प्रसिद्ध रहा है पीएम ने कहा देश की प्रगति में आदिवासी समाज का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। मैं उन्हें राज्य के स्थापना दिवस पर शुभकामनाएं देता हूं और राज्य के उज्ज्वल भविष्य की भी कामना करता हूं।

पीएम मोदी ने 'विकसित भारत संकल्प यात्रा' को दिखाई हरी झंडी 

प्रधानमंत्री ने 'विकसित भारत संकल्प यात्रा' के शुभारंभ के अवसर पर झारखंड के खूंटी में आईईसी (सूचना, शिक्षा और संचार) वैन को हरी झंडी दिखाई। यात्रा शुरुआत में महत्वपूर्ण जनजातीय आबादी वाले जिलों से शुरू होगी और 26 जनवरी, 2024 तक देश भर के सभी जिलों को कवर करेगी। इस यात्रा में सरकार देश के हर गांव में जाएगी।  पीएम मोदी ने कहा, मिशन मोड में हर गरीब और हर वंचित व्यक्ति को सरकारी योजनाओं का लाभार्थी बनाया जाएगा।

‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ नामक पहल के माध्यम से, लोगों तक पहुंचकर जागरूकता पैदा करने,स्वच्छता सुविधाओं,खाद्य सुरक्षा, उचित पोषण, विश्वसनीय स्वास्थ्य देखभाल, स्वच्छ पेयजल,आवश्यक वित्तीय सेवाओं,बिजली कनेक्शन,एलपीजी सिलेंडरों तक पहुंच,गरीबों के लिए आवास जैसी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।  

पीएम मोदी ने कहा कि विकसित भारत के 4 स्तंभ हैं- पहला- भारत की महिलाएं, हमारी नारी शक्ति;  दूसरा- भारत के किसान, हमारे पशुपालक, मछली पालक, हमारे अन्नदाता; तीसरा- भारत का युवा, हमारी युवा शक्ति; चौथा- भारत का मध्यम वर्ग,भारत का  गरीब। हम इन 4 स्तंभों को जितना मजबूत करेंगे, विकसित भारत के स्तंभ उतने ही ऊंचे उठेंगे।” पीएम मोदी ने कहा कि सामाजिक न्याय तभी सुनिश्चित किया जा सकता है जब सभी जब देश के किसी भी नागरिक के साथ भेदभाव की सभी संभावनाएं खत्म हो जाएं।”

पीएम पीवीटीजी विकास मिशन हुआ लाॅन्च 

खूंटी में आयोजित कार्यक्रम के दौरान, पीएम मोदी ने एक अनोखी पहल की शुरुआत करते हुए 'प्रधानमंत्री विशेष रूप से कमजोर जनजातीय समूह (पीएम पीवीटीजी) विकास मिशन' भी लॉन्च की। 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 75 PVTGS हैं जो 22,544 गांवों (220 जिलों) में रहते हैं, जिनकी आबादी लगभग 28 लाख है।

ये जनजातियाँ वन क्षेत्रों में बिखरी हुई हैं जो सुदूर और दुर्गम बस्तियों में रहती हैं, लगभग 24,000 करोड़ रुपये के बजट वाले इस मिशन से पीवीटीजी परिवारों और बस्तियों को सड़क और दूरसंचार कनेक्टिविटी, बिजली, सुरक्षित आवास, स्वच्छ पेयजल और स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण तक बेहतर पहुंच और टिकाऊ बुनियादी सुविधाओं को पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके अलावा पीवीटीजी के विकास के लिए पीएमजेएवाई, सिकल सेल रोग उन्मूलन, टीबी उन्मूलन, शत-प्रतिशत टीकाकरण, पीएम सुरक्षित मातृत्व योजना, पीएम मातृ वंदना योजना, पीएम पोषण, पीएम जनधन योजना जैसी योजनाएं चलाएं जा रही हैं।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 642184
आखरी अपडेट: 13th Apr 2024