प्रतिक्रिया | Monday, July 22, 2024

कुवैत में भीषण आग हादसे में मारे गए 46 भारतीयों के शव लेकर भारत आ रहा वायुसेना का विशेष विमान 

कुवैत में बहुमंजिला आवासीय इमारत में आग लगने के कारण मारे गए 46 भारतीयों के शव लेकर भारतीय वायुसेना का एक विशेष विमान कोच्चि के लिए उड़ान भर चुका है। शुक्रवार सुबह यह विमान कुवैत से रवाना हुआ। इस विमान में विदेश राज्य मंत्री कीर्तिवर्धन सिंह भी मौजूद हैं।

कुवैती अधिकारियों से को-ऑर्डिनेशन करने और शवों को जल्द स्वदेश लाने कुवैत पहुंचे थे विदेश राज्यमंत्री

बताया जा रहा है कि मृतकों में ज्यादातर केरल के निवासी हैं। सभी भारतीय शवों की पहचान कर ली गई है। हालात का जायजा लेने कुवैत पहुंचे विदेश राज्यमंत्री कीर्तिवर्धन सिंह वहां कुवैती अधिकारियों से को-ऑर्डिनेशन करने और शवों को जल्दी स्वदेश लाने की वजह से कुवैत पहुंचे थे। 

46 भारतीयों के साथ ही फिलीपींस के तीन नागरिकों की भी हुई मौत 

इस हादसे में 46 भारतीयों के साथ ही फिलीपींस के तीन नागरिकों की भी मौत हुई है। कुल मिलाकर 49 लोगों की मौत हुई जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। मारे गए नागरिकों में सबसे अधिक केरल के रहने वाले हैं।  

लुलु समूह कुवैत अग्निकांड में जान गंवाने वालों के परिजनों को देगा पांच-पांच लाख रुपये

उधर, कुवैत अग्निकांड में जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों को आर्थिक मदद देने का प्रतिष्ठित अनिवासी भारतीय (एनआरआई) कारोबारी और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) स्थित लुलु समूह के प्रमुख एम. ए. युसूफ अली ने ऐलान किया है। इसके तहत प्रत्येक मृतक के परिवार को पांच-पांच लाख रुपये देने की गुरुवार को घोषणा की गई।

ज्ञात हो, दक्षिणी कुवैत के मंगफ क्षेत्र में बुधवार को एक बहुमंजिला इमारत में भीषण आग लगने से 49 विदेशी मजदूरों की मौत हो गई थी और 50 अन्य घायल हो गये थे। मृतकों में 46 भारतीय हैं। अबू धाबी में समूह द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि इस हादसे में जान गंवाने वाले प्रत्येक मृतक के परिवार को पांच लाख रुपये की राशि दी जाएगी।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5217594
आखरी अपडेट: 22nd Jul 2024