प्रतिक्रिया | Saturday, June 15, 2024

स्पर्श सेवा केंद्र खोलने के लिए 4 और बैंकों के साथ रक्षा मंत्रालय का समझौता, रिटायर्ड जवानों को होगा फायदा

 

रक्षा मंत्रालय के डिफेंस अकाउंट डिपार्टमेंट (डीएडी) ने देशभर में चार बैंकों की 1,128 शाखाओं में स्पर्श (पेंशन प्रशासन प्रणाली (रक्षा)) सेवा केंद्र के रूप में उन्हें शामिल करने के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। इन बैंकों में बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया और उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक हैं। एमओयू पेंशनभोगियों को बाधा रहित कनेक्टिविटी प्रदान करेगा, खासकर दूरदराज के क्षेत्रों में जहां उनके पास स्पर्श पर लॉग ऑन करने के लिए तकनीकी साधन नहीं हैं।

पेंशनभोगियों के लिए एक इंटरफेस
ये सेवा केंद्र स्पर्श के लिए पेंशनभोगियों के लिए एक इंटरफेस बन जाएंगे, जो उनके प्रोफाइल को अपडेट करने, शिकायत दर्ज करने, डिजिटल वार्षिक पहचान, डेटा सत्यापन के अलावा उनकी मासिक पेंशन के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए एक प्रभावी माध्यम प्रदान करेंगे। इन केंद्रों तक पहुंच मुफ्त प्रदान की जाएगी, जिसमें मामूली सेवा शुल्क डीएडी द्वारा वहन किया जाएगा।

स्पर्श सेवाएं 15 बैंकों की 26,000 से अधिक शाखाओं में उपलब्ध
इन समझौता ज्ञापनों के साथ, स्पर्श सेवाएं अब देशभर में कुल 15 बैंकों की 26,000 से अधिक शाखाओं में उपलब्ध होंगी। यह रक्षा विभाग के 199 समर्पित सेवा केंद्रों और देश भर में 3.75 लाख से अधिक कॉमन सर्विस सेंटरों के अतिरिक्त है।

उल्लेखनीय है कि स्पर्श रक्षा मंत्रालय की एक पहल है जिसका उद्देश्य रक्षा पेंशनभोगियों को व्यापक समाधान प्रदान करना है। यह रक्षा पेंशन के प्रबंधन में एक मौलिक बदलाव है क्योंकि यह दक्षता, जवाबदेही और पारदर्शिता लाने पर केंद्रित है।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3578090
आखरी अपडेट: 15th Jun 2024