प्रतिक्रिया | Thursday, July 25, 2024

28/06/24 | 7:19 pm | Amarnath Yatra 2024

अमरनाथ तीर्थयात्रियों का पहला जत्था कड़ी सुरक्षा के बीच कश्मीर घाटी पहुंचा

अमरनाथ तीर्थयात्रियों का पहला जत्था आज शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कश्मीर घाटी पहुंच गया है। पुलिस और नागरिक प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों और स्थानीय लोगों ने दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के काजीगुंड इलाके में नवयुग सुरंग पर 4,603 तीर्थयात्रियों का स्वागत किया।

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने दिखाई हरी झंडी

अमरनाथ यात्रा शनिवार को अनंतनाग में पारंपरिक 48 किलोमीटर नुनवान-पहलगाम मार्ग और गांदरबल में 14 किलोमीटर बालटाल मार्ग से शुरू होगी और 19 अगस्त को समाप्त होगी। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने शुक्रवार सुबह जम्मू के भगवती नगर स्थित यात्री निवास बेस कैंप से बम बम भोले और हर हर महादेव के नारों के बीच पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाई। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने तीर्थयात्रियों को सुरक्षित यात्रा की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि बाबा अमरनाथ का आशीर्वाद सभी के जीवन में शांति, खुशी और समृद्धि लाए।

तीर्थयात्री 231 हल्के और भारी वाहनों के काफिले में श्रीनगर पहुंचे। कुलगाम के डिप्टी कमिश्नर (डीसी) अतहर आमिर खान ने संवाददाताओं को बताया कि बालटाल और पहलगाम दोनों मार्गों से यात्रा करने वाले तीर्थयात्रियों का प्रशासन, नागरिक समाज के सदस्यों, व्यापार बिरादरी, फल उत्पादकों और बाजार संघों द्वारा स्वागत किया गया। खान ने कहा कि हम उन सभी का स्वागत करते हैं। उनके लिए उचित व्यवस्था की गई है।

अधिकारियों ने बताया कि तीर्थयात्रियों का काफिला बालटाल और पहलगाम में आधार शिविरों के लिए अलग-अलग रवाना हुआ, जहां से वे शनिवार सुबह 3,880 मीटर ऊंचे पवित्र गुफा मंदिर के लिए रवाना होंगे। सुचारू यात्रा सुनिश्चित करने के लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा, क्षेत्र नियंत्रण, विस्तृत मार्ग तैनाती और चौकियों सहित व्यापक व्यवस्था की गई है।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5411986
आखरी अपडेट: 25th Jul 2024