प्रतिक्रिया | Saturday, July 20, 2024

पेरिस 2024 ओलंपिक खेलों के लिए जाने वाले भारतीय एथलीटों को रविवार शाम नई दिल्ली स्थित एक होटल में भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में औपचारिक विदाई दी गई। केवल इतना ही नहीं, इस दौरान भारतीय दल की स्पोर्ट्स किट का भी अनावरण किया गया। 

भारतीय टीम की तीन किट का किया अनावरण

केंद्रीय युवा मामले और खेल तथा श्रम और रोजगार मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया, केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी, और भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष एवं राज्य सभा सदस्य, डॉ. पी.टी. उषा ने भारतीय टीम की तीन किटों का अनावरण किया।

इस किट में इस्तेमाल किया गया कपड़ा एथलीटों को अधिकतम आराम प्रदान करता है। कपड़े की एंटी-स्टैटिक विशेषता स्थैतिक चिपकने से बचाती है जबकि खिंचाव सुविधा परिधान को एथलीट के शरीर के साथ चलने और उनके आकार के अनुरूप होने की अनुमति देती है, एक आरामदायक, कस्टम फिट प्रदान करती है जो गति की अधिकतम सीमा की अनुमति देती है।

आत्मविश्वास से भरे एथलीटों द्वारा रैंप-वॉक के दौरान जेएसडब्ल्यू इंस्पायर द्वारा डिजाइन की गई प्लेइंग किट, तरुण तहिलियानी के स्वामित्व वाली टीएएसवीए द्वारा डिजाइन की गई औपचारिक पोशाक और पूमा द्वारा परफॉर्मेंस शू और ट्रैवल गियर सहित किट का प्रदर्शन किया गया।

देश के एथलीटों की कड़ी मेहनत, समर्पण और अटूट भावना का मनाया जश्न 

इस अवसर पर केंद्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने कहा कि सभी भारतीयों ने देश के एथलीटों की कड़ी मेहनत, समर्पण और अटूट भावना का जश्न मनाया, जिन्होंने सबसे बड़े मंच पर भारत का प्रतिनिधित्व करने का सम्मान अर्जित किया है। उन्होंने कहा, “यह कार्यक्रम सिर्फ जर्सी और औपचारिक पोशाक के अनावरण के बारे में नहीं है, बल्कि उन अरबों भारतीयों के सपनों और आकांक्षाओं का प्रतीक है जो एथलीटों के पीछे एकजुट हैं।”

एथलीटों से इस बार पदक तालिका में और भी ऊपर ले जाने की उम्मीद

आगे जोड़ते हुए उन्होंने यह भी कहा, “मुझे विश्वास है कि यह दल खेलों में भारत के विकास पथ को बनाए रखेगा। हमने रियो 2016 में दो पदकों से बढ़कर टोक्यो 2020 में सात पदक हासिल किए, क्योंकि भारत 67वें से 48वें स्थान पर पहुंच गया, जिसमें मुख्य रूप से नीरज चोपड़ा के भाला फेंक स्वर्ण पदक से मदद मिली। मुझे उम्मीद है कि हमारे एथलीट इस बार हमें पदक तालिका में और भी ऊपर ले जाएंगे।”

भारत को खेल महाशक्ति बनाने के आंदोलन में सबसे आगे रही सरकार 

केंद्रीय मंत्री डॉ. मंडाविया ने कहा कि सरकार भारत को एक खेल महाशक्ति बनाने के आंदोलन में सबसे आगे रही है। उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के दूरदर्शी नेतृत्व में, सरकार ने टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) जैसी विभिन्न योजनाओं के माध्यम से एथलीटों का समर्थन किया है, जो शीर्ष पर पहुंचने वालों को विशेष सहायता प्रदान करती है।”

उन्होंने कहा, “सरकार ने विभिन्न विषयों में एथलीटों को उनकी विश्व रैंकिंग ऊंची बनाए रखने के लिए समर्थन देने, उन्हें भारत और विदेशों में विभिन्न स्थानों पर प्रशिक्षण के लिए भेजने, कोच और सहायक स्टाफ के रूप में प्रसिद्ध विदेशी विशेषज्ञों को शामिल करने और यह सुनिश्चित करने के लिए लगातार काम किया है कि खेल पारिस्थितिकी तंत्र के साथ तालमेल बना रहे।”

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि यह उनके मंत्रालय के लिए गर्व की बात है कि वह भारत के ओलंपिक खेल का समर्थन कर सकता है। उन्होंने कहा, “मुझे इस बात की भी खुशी है कि हमारे कई पब्लिक सेक्टर कारपोरेशन कई खिलाड़ियों को रोजगार देते हैं, जिनमें पेरिस जाने वाले ओलंपियन भी शामिल हैं। मुझे विश्वास है कि भारतीय टीम पेरिस में यादगार प्रदर्शन करने और अच्छी संख्या में पदक लेकर वापस आने के लिए प्रेरित होगी।”

भारत के एथलीटों को पेरिस 2024 में खेल विज्ञान समर्थन की नहीं होगी कमी 

अपने स्वागत भाषण में, डॉ. उषा ने कहा कि उन्होंने एक एथलीट के रूप में अपने अनुभव का उपयोग यह सुनिश्चित करने में किया है कि भारत के एथलीटों को पेरिस 2024 में खेल विज्ञान समर्थन की कमी नहीं होगी।

एथलीट-केंद्रित योजना की तैयार 

उन्होंने कहा, “हमने अपने एथलीटों का समर्थन करने के लिए जिससे वह पेरिस में अपने चरम पर प्रदर्शन करें उसके लिए एक बहुत ही एथलीट-केंद्रित योजना तैयार की है। पहली बार, आईओए एथलीटों और कोचिंग और सहायक स्टाफ को भागीदारी भत्ता भी देगा। मुझे विश्वास है कि भारत किसी भी ओलंपिक में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके पेरिस से वापस आएगा।”

भारत ओलंपिक में करीब 120 एथलीटों का दल भेजेगा

भारत ओलंपिक में करीब 120 एथलीटों का दल भेजेगा, जिसमें पुरुष भाला फेंक में गत चैंपियन नीरज चोपड़ा के नेतृत्व वाली एथलेटिक्स टीम, 21 सदस्यीय शूटिंग टीम और 16 सदस्यीय पुरुष हॉकी टीम शामिल है। (इनपुट-हिंदुस्थान समाचार)

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5142460
आखरी अपडेट: 20th Jul 2024