प्रतिक्रिया | Sunday, June 16, 2024

भारत का चुनाव ऐतिहासिक, हमने 64.2 करोड़ मतदाताओं का विश्व रिकॉर्ड बनाया : मुख्य चुनाव आयुक्त

देश में 7 चरणों में मतदान प्रक्रिया सम्पन्न होने के बाद चुनाव आयोग ने आज (सोमवार) प्रेस वार्ता की। लोकसभा चुनावों पर मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने कहा, “भारत ने लोकसभा चुनाव में 642 मिलियन (64.2 करोड़) मतदाताओं के भाग लेने के साथ विश्व रिकॉर्ड बनाया। यह सभी G7 देशों के मतदाताओं का 1.5 गुना और EU के 27 देशों के मतदाताओं का 2.5 गुना है। केवल इतना ही नहीं, मुख्य चुनाव आयुक्त ने महिला वोटर्स को बड़ी संख्या में वोट देने के लिए भी बधाई दी।  

चुनाव आयोग की प्रेस वार्ता

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने आज प्रेस वार्ता के दौरान मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि इस लोकसभा चुनाव में मतदान के दौरान विश्व रिकॉर्ड बना है। उन्होंने कहा कि भारत का चुनाव ऐतिहासिक है। हमने 642 मिलियन मतदाताओं का विश्व रिकॉर्ड बनाया है। भारत का चुनाव ऐतिहासिक है। यह सभी G7 देशों के मतदाताओं का 1.5 गुना और EU के 27 देशों के मतदाताओं का 2.5 गुना है। जम्मू-कश्मीर में मतदान प्रतिशत पिछले चार दशकों में सबसे अधिक रहा। उन्होंने  मतदाताओं को नमन किया और बड़ी संख्या में वोट देने के लिया महिला वोटर्स को बधाई दी। उन्होंने बताया कि इस बार 31 करोड़ से ज्यादा महिलाओं ने मतदान किया। 

यह उन आम चुनावों में से एक जिसमें हमने हिंसा नहीं देखी

लोकसभा चुनाव की मतगणना से पहले राजीव कुमार ने कहा, “चुनाव कर्मियों के सावधानीपूर्वक कार्य के कारण हम कम पुनर्मतदान सुनिश्चित करते हैं – हमने 2024 के लोकसभा चुनाव में 39 पुनर्मतदान देखे, जबकि 2019 में 540 पुनर्मतदान हुए थे और 39 में से 25 पुनर्मतदान केवल 2 राज्यों में हुए थे।” राजीव कुमार ने पत्रकारों से कहा कि यह उन आम चुनावों में से एक है जिसमें हमने हिंसा नहीं देखी। आपको याद होगा, पहले के चुनावों में हम किस तरह की हिंसा देखते थे।  

मतगणना प्रक्रिया के बारे में दी जानकारी
 
मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने 4 जून को लोकसभा चुनाव के परिणाम घोषित करने के लिए अपनाई जाने वाली मतगणना प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा, “संपूर्ण मतगणना प्रक्रिया पूरी तरह से मजबूत है। यह घड़ी की सटीकता के समान काम करती है।” उन्होंने कहा कि व्यवस्था में कोई समस्या नहीं हो सकती। मानवीय व्यवहार में जरूर समस्या हो सकती हैं। उसको हम डील करेंगे।
 
जम्मू-कश्मीर में हुए मतदान की कहानी काफी आशाजनक

बंगाल में अन्य जगहों पर पोस्ट पोल हिंसा के बारे में सवाल पूछे जाने पर राजीव कुमार ने कहा, पूरे देश में लोग अब हिंसा के नाम पर त्रस्त हैं। चुनाव के वक्त मुश्किल जगहों पर भी लोगों ने बुलेट की जगह बैलेट का जिस तरह आगाज़ किया है वह काफी आशाजनक है। यह आगे भी जारी रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर पोस्ट पोल हिंसा कहीं भी होती है तो इसके लिए हमने पहली बार निर्णय लिया है कि एमसीसी (MCC) के बाद भी कुछ राज्यों में पैरामिलिट्री फोर्स रहेगी।” उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में हुए मतदान की कहानी काफी आशाजनक है। हम बहुत जल्द जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव की प्रक्रिया भी शुरू करेंगे।

वहीं कांग्रेस नेता जयराम रमेश के इस आरोप पर कि केंद्रीय गृह मंत्री ने डीएम/आरओ (रिटर्निंग ऑफिसर) को फोन किया। इस पर मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने कहा, “ऐसा कैसे हो सकता है? क्या कोई उनको (डीएम/आरओ) प्रभावित कर सकता है? हमें बताएं कि यह किसने किया, हम उसको सजा देंगे, यह ठीक नहीं है कि आप अफवाह फैलाएं और सभी को शक के दायरे में ले आएं।”

सबसे पहले होगी पोस्टल बैलेट की गिनती शुरू

प्रेस वार्ता के दौरान राजीव कुमार ने मीडिया को बताया कि सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गिनती शुरू होगी। उसके आधे घंटे बाद ही हम ईवीएम (EVM) की गिनती शुरू कर देंगे।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 3648124
आखरी अपडेट: 16th Jun 2024