प्रतिक्रिया | Tuesday, July 16, 2024

13/06/24 | 6:31 pm

एक समय में ‘बैंकों की पहुंच से वंचित’ मानी जाने वाली महिलाएं ‘भविष्य की लखपति दीदी’ हैंः शिवराज सिंह चौहान

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कभी ‘बैंकों की पहुंच से वंचित’ मानी जाने वाली ये महिलाएं ‘भविष्य की लखपति दीदी’ हैं और स्वयं सहायता समूह ग्रामीण ऋण की दशकीय समस्या को हल करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं- ये महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास का एक सच्चा उदाहरण है।

शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार (11 जून 2024) को मंत्रालय का पदभार संभालने के बाद वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अपनी बैठकों को जारी रखा और विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने योजनाओं के लिए विभागीय कार्य योजना के सभी पहलुओं को समझते हुए स्वयं सहायता समूहों को सशक्त करने के लिए मजबूत कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि तीन करोड़ लखपति दीदी का लक्ष्य उनके लिए एक सपने की तरह है और सभी से तीन वर्ष की समय सीमा से पहले लक्ष्य हासिल करने के लिए काम करने का आह्वान किया।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह जल्द ही लखपति दीदी पहल को बढ़ावा देने के लिए राज्यों के ग्रामीण विकास मंत्रियों की साथ एक बैठक करेंगे और यदि कोई मुद्दा हैं, तो उन्हें हल करने के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा करेंगे। उन्होंने दीनदयाल अन्त्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डी. ए. वाई.-एन. आर. एल. एम.) के तहत किए गए प्रयासों की सराहना की और महिला स्वयं सहायता समूहों (एस. एच. जी.) द्वारा बनाए गए उत्पादों की बिक्री के लिए ब्रांडिंग और विपणन प्रयासों को मजबूत करने की आवश्यकता पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) की समीक्षा करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह योजना ग्रामीण भारत की तस्वीर बदलने में सहायक रही है और इसे विकसित भारत की प्राप्ति को सुगम बनाने के लिए आगे बढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने निर्देश दिया कि शत-प्रतिशत ग्रामीण बस्तियों को हर मौसम में उपयोग में आने वाली सड़क से जोड़ने की दिशा में प्रयास किए जाने चाहिए।

उन्होंने ग्रामीण सड़कों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए किए गए नए उपायों की सराहना की और इच्छा जाहिर की कि इन्हें सभी स्तरों पर बढ़ाया जाए। शिवराज सिंह ने ग्रामीण सड़क रखरखाव में सुधार के लिए राज्यों के साथ अधिक समन्वय का आह्वान किया। उन्होंने इस कार्यक्रम में जन प्रतिनिधियों की साझेदारी को मजबूत करने के लिए आगे के उपाय करने का निर्देश दिया। इस बैठक के दौरान ग्रामीण विकास राज्य मंत्री कमलेश पासवान, सचिव, शैलेश कुमार सिंह और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4920992
आखरी अपडेट: 16th Jul 2024