प्रतिक्रिया | Tuesday, July 23, 2024

04/07/24 | 11:54 am

केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने डिब्रूगढ़ के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया दौरा, अधिकारियों को राहत-बचाव कार्यों को तेज करने के दिए निर्देश

केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने बुधवार को असम के डिब्रूगढ़ में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने तेंगाखाट में बाढ़ प्रभावित लोगों के राहत शिविर का दौरा किया। केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, “असम में बाढ़ की वजह से लाखों लोगों का नुकसान हुआ है। पीड़ित लोगों के लिए राज्य सरकार की ओर से सही कदम उठाए गए हैं। आने वाले दिनों में बाढ़ परिस्थितियों का स्थायी हल निकालने के लिए केंद्र और राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। मंत्री सोनोवाल ने अधिकारियों को बाढ़ पीड़ितों को राहत पहुंचाने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने और राहत एवं बचाव कार्यों को तेज करने का भी निर्देश दिया।

पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय के अनुसार केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने 3 जुलाई को डिब्रूगढ़ क्षेत्र में बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया और बाढ़ प्रभावित लोगों के लाभ के लिए सरकार द्वारा किए गए राहत कार्यों की समीक्षा की। सोनोवाल ने डिब्रूगढ़ शहर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया, जिसमें ग्राहम बाजार, एटी रोड, एचएस रोड, आरकेबी पथ, मनकोटा रोड, थाना चारियाली, झालुकपारा शामिल हैं। उन्होंने तेंगाखाट और हतीबंधा में तटबंध स्थलों का भी दौरा किया और उनकी समीक्षा की।

केंद्रीय मंत्री ने तेंगाखाट में बाढ़ प्रभावित लोगों के राहत शिविर का दौरा किया। उन्होंने बाढ़ प्रभावित व्यक्तियों की स्थिति का आकलन किया, उनसे बातचीत कर भौतिक क्षति का आकलन किया। सोनोवाल ने जिला आयुक्त को आश्रय शिविरों में साफ-सफाई बनाए रखने और बीमारी के प्रकोप को रोकने के उपाय लागू करने के निर्देश दिए तथा शिविरों में चिकित्सा उपचार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए तथा बुजुर्गों, महिलाओं और बच्चों पर विशेष ध्यान देने पर जोर दिया।

इस दौरान सोनोवाल ने अधिकारियों को बाढ़ पीड़ितों को राहत पहुंचाने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने और राहत एवं बचाव कार्यों को तेज करने का भी निर्देश दिया। बता दें, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF), राज्य आपदा मोचन बल (SDRF), भारतीय सेना और भारतीय वायु सेना ने डिब्रूगढ़ लोकसभा क्षेत्र के भीतर विभिन्न स्थानों पर राहत और बचाव अभियान चलाने के लिए जिला प्रशासन के साथ मिलकर काम किया है।

बाढ़ की स्थिति के बारे में चर्चा करते हुए सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, “यह गंभीर चिंता का विषय है, क्योंकि डिब्रूगढ़, तिनसुकिया के साथ-साथ असम के कई अन्य हिस्सों में बाढ़ की स्थिति बिगड़ती जा रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी बाढ़ की स्थिति पर अपनी गहरी चिंता व्यक्त की है और इस पर नियमित अपडेट ले रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकारें, दोनों इस प्राकृतिक आपदा से लड़ने और बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत प्रदान करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने के लिए एकजुट हो गई हैं। सरकार इस बाढ़ में लोगों द्वारा सामग्री के नुकसान के लिए वित्तीय राहत प्रदान करने के लिए भी कदम उठाएगी। मैंने अधिकारियों को तटबंधों की मरम्मत और निर्माण के लिए तत्काल उपाय करने का भी निर्देश दिया है।”

 

No related posts found.
कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 5289321
आखरी अपडेट: 23rd Jul 2024