प्रतिक्रिया | Saturday, July 13, 2024

विश्व बैंक ने वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए भारत की जीडीपी विकास दर बढ़ाकर 6.6 फीसदी किया

विश्व बैंक ने भारत की जीडीपी को लेकर अनुमान लगाया है जिसमें विश्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष 2024-25 के लिए भारत की जीडीपी विकास पूर्वानुमान को 20 आधार अंकों से बढ़ाकर 6.6 प्रतिशत कर दिया है। गौरतलब है कि जनवरी में किए गए 6.4 प्रतिशत के अपने पहले के अनुमान से अधिक है। विश्व बैंक ने कहा कि भारत दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में सबसे तेजी से बढ़ने वाला देश बना रहेगा, हालांकि इसके विस्तार की गति धीमी रहेगी।

अपनी नवीनतम वैश्विक आर्थिक संभावना रिपोर्ट में अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थान ने बताया कि भारत की औद्योगिक गतिविधि में वृद्धि, जिसमें विनिर्माण और निर्माण शामिल है, अपेक्षा से अधिक मजबूत रही, साथ ही लचीली सेवा गतिविधि भी रही जिसने आंशिक रूप से मानसून के कारण कृषि उत्पादन में मंदी की भरपाई करने में मदद की। घरेलू मांग में वृद्धि मजबूत रही, जिसमें बुनियादी ढांचे सहित निवेश में उछाल आया, महामारी के बाद की दबी हुई मांग में कमी आने के कारण खपत वृद्धि में नरमी की भरपाई की। 2025-26 के लिए, विश्व बैंक ने इसी तरह विकास अनुमानों को 6.5 प्रतिशत से बढ़ाकर 6.7 प्रतिशत कर दिया है।

मौजूदा समय भारत की अर्थव्यवस्था में मजबूत घरेलू मांग, निवेश में उछाल और मजबूत सेवा गतिविधि से बनी हुई है। विश्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि 2024 से 2026 तक हर वित्तीय वर्ष में औसतन 6.7 प्रतिशत की वृद्धि होने का अनुमान है जिससे दक्षिण एशिया दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ने वाला क्षेत्र बन जाएगा।

भारत सरकार के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2023-24 के दौरान इसकी जीडीपी में 8.2 प्रतिशत की भारी वृद्धि हुई और देश सबसे तेजी से बढ़ने वाली प्रमुख अर्थव्यवस्था बना रहा। भारत की अर्थव्यवस्था 2022-23 में क्रमशः 7.2 प्रतिशत और 2021-22 में 8.7 प्रतिशत बढ़ी।

आरबीआई ने भी 2024-25 के लिए जीडीपी वृद्धि दर 7.2 फीसदी का लगाया अनुमान

भारतीय रिजर्व बैंक ने भी अपने नवीनतम मौद्रिक नीति बैठक में 2024-25 के लिए जीडीपी पूर्वानुमान को पहले के 7 प्रतिशत से बढ़ाकर 7.2 प्रतिशत कर दिया। वहीं मॉर्गन स्टेनली ने 2024 में भारत में 6.8 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमान जताया है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के नवीनतम विश्व आर्थिक परिदृश्य के अनुसार, भारत 2024 में प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में सबसे तेजी से बढ़ने वाला देश बना रहेगा। आईएमएफ ने अपने नवीनतम पूर्वानुमान में 2024 के लिए भारत के विकास अनुमानों को 6.5 प्रतिशत से बढ़ाकर 6.8 प्रतिशत कर दिया है।

वहीं मूडीज रेटिंग्स को भी उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष 2024-25 में भारत 6.6 प्रतिशत की दर से बढ़ेगा। एशियाई विकास बैंक (ADB) ने वित्त वर्ष 2024 के लिए भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) विकास पूर्वानुमान को 6.7 प्रतिशत से बढ़ाकर 7 प्रतिशत कर दिया है।

कॉपीराइट © 2024 न्यूज़ ऑन एयर। सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुकों: 4784364
आखरी अपडेट: 13th Jul 2024